देश

देश में कोरोना के लिए 586 अस्पताल और 1 लाख बेड, केंद्र सरकार ने की आगरा मॉडल की तारीफ

 नई दिल्ली 
कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में देश की तैयारियों के बारे में बताते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि इस महामारी के लिए केंद्र और राज्य सरकारों ने मिलकर 586 अस्पताल तैयार किए हैं। इनमें 1 लाख आइसोलेशन बेड और 11 हजार आईसीयू बेड की व्यवस्था है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने यह भी कहा कि आज पीएम नरेंद्र मोदी के साथ बात करते हुए सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों ने साथ मिलकर इस वायरस को नियंत्रित करने की प्रतिबद्धता जताई है। अग्रवाल ने आगरा मॉडल की तारीफ करते हुए बताया कि किस तरह यहां कोरोना को नियंत्रित किया गया है। 
 
कोरोना वायरस से निपटने में जहां भीलवाड़ा मॉडल की चर्चा हो रही है तो आज स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगरा मॉडल की तारीफ की। अग्रवाल ने कहा कि देश में कोरोना का पहला क्लस्टर आगरा में सामने आया था। प्रशासन ने यहां कई तरह के इंतजाम किए और कंटेनमेंट जोन बनाकर कोरोना को फैलने से रोका गया। लव अग्रावल ने बताया कि आगरा स्मार्ट सिटी केंद्र को बनाया वॉर रूम के रूप में इस्तेमाल किया गया। उन्होंने बताया कि आगरा में 92 केस सामने आए थे, जिनमें से 5 लोग ठीक हो चुके हैं और 87 अभी निगरानी में है। 38 एपिसेंटर में 10 बंद किए जा चुके हैं।
 
इस तरह हुआ आगरा में कोरोना नियंत्रण
उन्होंने कहा, '25 फरवरी को यहां पहला केस आया। उस पूरे केस की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की गई। वह कहां-कहां गए किस-किस से मिले। इसके बाद हॉटस्पॉट और एपिसेंटर की पहचान की गई। इसे नक्शे पर दिखाया गया। 3 किलोमीटर को कंटेनमेंट जोन और 5 किलोमीटर को बफर जोन बनाया गया। हर एरिया का एक माइक्रोप्लान बनाया गया। 1248 टीमें बनाई गईं। इन्होंने 1.65 लाख घरों की स्क्रीनिंग की। इनमें से 25 सौ लोगों की पहचान की गई जिनमें कफ, सर्दी, बुखार जैसे लक्षण थे। 36 लोगों का यात्रा इतिहास था। सबकी जांच की गई।' 

तो आज 8.2 लाख होते कोरोना संक्रमित
स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी कहा कि यदि लॉकडाउन लागू नहीं किया जाता तो कोविड-19 के मामले 41 फीसद की दर से बढ़ते और 15 अप्रैल तक संक्रमितों की संख्या 8.2 लाख होती। यदि केवल कंटेनमेंट के उपाय किए जाते और लॉकडाउन नहीं किया जाता तो 1.2 लाख लोग संक्रमित हो जाते। लेकिन राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन और कंटेनमेंट के उपायों के जरिए इसे 7447 तक रोका जा सकता है।
 
24 घंटे में 1 हजार से अधिक संक्रमित
स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया कि देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 7447 हो गई है। अब तक 239 मौतें हुई हैं और वर्तमान में कुल 6565 व्यक्ति महामारी से संक्रमित हैं। वहीं, पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1035 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 40 लोगों को इस वायरस की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी है। 643 (1 माइग्रेटेड) मरीज अब तक इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं। आईसीएमआर की ओर से बताया गया देश में अब तक 1.71 लाख लोगों की जांच की जा चुकी है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close