छत्तीसगढ़रायपुर

फर्जी पत्रकार और साथी पकड़ाया,शराब के साथ हथियार की जब्ती

रायपुर
कई मायनो में तो वाकई लाकडाउन कोरोना से परे अच्छा भी है जब अर्जी-फर्जी करने वाले छटपटाने लगे हैं और पुलिस के गिरफ्त में धरे जा रहे हैं चाहे वे जुआ, शराब, चोरी, अवैध हथियार जैसे मामले क्यों न हों? राजधानी पुलिस ने एक ऐसे कथित पत्रकार को गिरफ्तार किया है जो पत्रकारिता का धौस बताकर शराब की तस्करी किया करता था। पुलिस ने छापेमारी के दौरान उस कथित पत्रकार के पास महंगी शराब ही नहीं कई सारे हथियार भी मिले हैं। खुद को पत्रकार साबित करने के लिए युवक ने एक कथित पत्रिका का परिचय पत्र भी बनवा रखा था,पुलिस ने उसके एक साथी को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस को सूचना मिली थी कि लॉकडाउन का फायदा उठाकर दो आरोपी राजीव नगर में शराब बेच रहे है। शिकायत के बाद एसएसपी आरिफ शेख के निर्देश पर क्राइम स्कावड टीम को लेकर पंकज चंद्रा, आभिषेक माहेश्वरी,नासिर सिद्दीकी के नेतृत्व में थाना प्रभारी खम्हारडीह ममता शर्मा ने राजीव नगर से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम जतिंद्र आकाश सिंह हैं जो खुद को एक मासिक पत्रिका का पत्रकार बता रहा है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने शराब बेचने की बात कबूल कर ली है। पुलिस ने आरोपी के एक और अन्य साथी मयंक अग्रवाल को भी गिरफतार किया है

आरोपी जतिंद्र के घर से 2 नग पिस्टल, एक  रिवाल्वर, आठ नग जिंदा कारतूस, चार नग धारदार हाथियार एवं टेबलेट, 42 नग कोडिन सिरप और एक कार बरामद किया गया है। आरोपी के घर से महंगी दारू के बोतल और बीयर भारी मात्रा में बरामद किया गया है। पकड़े गये दोनों आरोपियों के खिलाफ खम्हारडीह थाना में 25 आर्म्स एक्ट,नारकाटिक्स एक्ट एवं धारा 34-2 आबकारी एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया गया है। आरोपियों के पास से जब्त रिवाल्वर और पिस्टल के संबंध में किसी तरह का कोई कागजात बरामद नहीं किया गया है। चूंकि मामला पत्रकारिता से जुड़ा हुआ था इसलिए उत्सुकता मीडिया के साथियों में भी रही जब पुलिस से गिरप्तारी की सूचना उन्हे मिली।

Related Articles

Back to top button
Close
Close