बिज़नेस

लॉकडाउन से 1 महीने में 1 अरब डॉलर घट गई डोनाल्ड ट्रंप की संपत्ति​

नई दिल्ली

    रियल एस्टेट जैसे कई कारोबार से जुड़ा है ट्रंप का परिवारअमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का कारोबार कई देशों में फैला हुआ हैकोरोना की वजह से उनके कारोबार को नुकसान हुआ हैपिछले एक महीने में उनके नेटवर्थ को 1 अरब डॉलर का नुकसानफोर्ब्स की सूची के मुताबिक उनका नेटवर्थ 2.1 अरब डॉलर हुआ

कोरोना के कहर के बीच जारी लॉकडाउन से दुनिया के अमीर लोगों को भी काफी नुकसान हुआ है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की संपत्ति पिछले एक महीने में 1 अरब डॉलर घट गई है. फोर्ब्स द्वारा जारी बिलिनेयर 2020 की सूची के मुताबिक वह 2.1 अरब डॉलर के नेटवर्थ के साथ दुनिया के 1001वें सबसे अमीर शख्स हैं.

असल में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप एक बड़े रियल एस्टेट कारोबारी हैं जिनका कारोबार अमेरिका से लेकर भारत तक फैला हुआ है. फोर्ब्स के अनुसार इस साल 1 मार्च से 18 मार्च 2020 के बीच उनकी कंपनियों बॉस्टन प्रॉपर्टीज और वोर्नाडो रियलिटी ट्रस्ट के शेयरों में करीब 37 फीसदी की गिरावट आई है. जाहिर है कि यह कोरोना के प्रकोप की वजह से हुआ है. उनके हॉस्पिटलिटी, अपार्टमेंट और गोल्फ कारोबार को भी नुकसान हुआ है.

एक महीने पहले इतनी थी संपत्ति

फोर्ब्स के अनुसार एक महीने पहले 73 वर्षीय डोनाल्ड ट्रंप का कुल नेटवर्थ 3.1 अरब डॉलर था. वह जनवरी 2017 में जब अमेरिका के राष्ट्रपति चुने गए तो वहां के इतिहास के पहले बिलिनेयर प्रेसिडेंट थे. न्यूयॉ​र्क के मैनहट्टन इलाके में उनकी करीब आधा दर्जन इमारते हैं. इसके अलावा उनके पास कई गोल्फ कोर्स और वाइनरी भी हैं.

पिता के साथ की कारोबार की शुरुआत

उन्होंने कारोबार की शुरुआत अपने पिता फ्रेड के साथ की थी जिन्होंने ब्रुकलीन और क्वीन्स में किफायती मकान बनाए थे. अब उनके दो बेटे डोनाल्ड जूनियर एरिक उनका कारोबार देखते हैं.

वह पहली बार 1982 में ही अपने पिता के साथ फोर्ब्स 400 की सूची में जगह पा गए थे, जब पिता—पुत्र का नेटवर्थ करीब 20 करोड़ डॉलर का था.

ट्रंप का भारतीय कारोबार

भारत में पहली बार ट्रंप की कंपनी ने साल 2013 में कदम रखा था. और पिछले 7 सालों में ट्रंप का कारोबार भारत के कई बड़े शहरों में फैल चुका है. ट्रंप की कंपनी द ट्रंप ऑर्गनाइजेशन भारतीय कंपनियों के साथ मिलकर 5 लग्जरी रेसिडेंशल प्रॉजेक्ट्स लॉन्च कर चुकी है.

भारत मेंं रियल एस्टेट में ट्रंप फैमिली ने बड़ा निवेश कर रखा है और प्रोजेक्ट का नाम भी ट्रंप से जुड़ा हुआ है. देश में मुंबई, पुणे, गुरुग्राम और कोलकाता में 'ट्रंप टॉवर' आपको रिहाइशी इलाकों में देखने को मिल जाएंगे.

 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close