मनोरंजन

हंसल मेहता ने मसकली रीमेक वर्जन को कहा कानफोड़ू

मुंबई
फिल्मकार हंसल मेहता ने ऑस्कर विजेता ए.आर.रहमान के मशहूर गाने 'मसकली' के रीमेक वर्जन को खराब और कानफोड़ू कहा है।

नया वर्जन 'मसकली 2.0' सिद्धार्थ मल्होत्रा और तारा सुतारिया पर फिल्माया गया है और इसे तुलसी कुमार और सचेत टंडन ने गाया है।

मेहता ने ट्वीट किया, "पुराने गानों का रीक्रिएशन रुक सकता है, अगर लगो उन्हें नकार दें। यूट्यूब पर पुराने गानों के खराब वर्जन की भरमार है और इसलिए संगीत कंपनियां इन्हें बना रही हैं। वीडियोज देखना बंद कर दें। इन गानों को सुनना बंद कर दें। इन्हें कार्यक्रम में बजाना बंद कर दें। वे रुक जाएंगे। "

उन्होंने कहा कि लोग अगर इन्हें सुनना बंद कर देंगे तो निर्माता बनान बंद कर देंगे।

मेहता ने बात को घुमाए-फिराए बिना कहा कि वह नए वर्जन के बारे में बात कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, "हां मैं खराब, कानफोड़ू मसकली वर्जन की बात कर रहा हूं। लेकिन पिछले 48 घंटों के इसके यूट्यूब व्यूज को देखें। फिर देखिएगा कि कैसे डीजे इसे कार्यक्रमों में बजाते हैं। और कैसे लोग इस खराब वर्जन पर झूमते हैं।"

इससे पहले, रहमना, गीतकार प्रसून जोशी भी इस नए वर्जन को लेकर निराशा जता चुके हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close