राज्य

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में भड़के दंगों की साजिश रचने के आरोप में जामिया की छात्रा अरेस्ट

 
नई दिल्ली

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हुए दंगों के मामले में दिल्ली पुलिस ने जामिया यूनिवर्सिटी की स्टूडेंट और जामिया को-ऑर्डिनेशन कमिटी की मीडिया प्रभारी सफूरा जरगर को अरेस्ट कर लिया है। फरवरी के आखिरी हफ्ते में भड़के दंगों की जांच कर रही जाफराबाद थाना पुलिस ने शनिवार को यह गिरफ्तारी की। आरोप है कि 22 फरवरी की रात सफूरा ने ही सीलमपुर थाना इलाके में धरने पर बैठी महिलाओं को जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे बिठाया और दंगे की साजिश रची।
 सफूरा को पूछताछ के बाद शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक, सीलमपुर थाना इलाके के मेन रोड पर सीएए के विरोध में महिलाओं का धरना चल रहा था। आरोप है कि सफूरा इन महिलाओं को भड़काकर जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे पहुंच गईं। यहां सभी महिलाओं को सड़क पर बिठाकर दंगे की साजिश रची गई। इससे नॉर्थ-ईस्ट जिले में दंगा भड़का और 50 से ज्यादा लोगों की जान गई। सफूरा जामिया इलाके में सीएए विरोधी आंदोलनों का भी हिस्सा रही हैं।

दिल्ली पुलिस के जॉइंट सीपी आलोक कुमार ने बताया, 'पुलिस ने जामिया कोआर्डिनेशन कमिटी की मीडियो कोआर्डिनेटर सफूरा जरगर को गिरफ्तार किया है। जरगर पर दिल्ली के नॉर्थ-ईस्ट जिले के जाफराबाद में सीएए विरोधी प्रदर्शन आयोजित करने का आरोप है।'
 

Related Articles

Back to top button
Close
Close