देश

पहली बार देश में एक दिन में बढ़े 1000 नए कोरोना वायरस केस, महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में बढ़े मरीज

 
नई दिल्ली

देश में पहली बार 24 घंटे में कोरोना के 1,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। आंकड़ों को देखें तो पिछले तीन दिनों में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ा है। इस हालात में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन का दो और सप्ताह यानी अप्रैल के अंत तक बढ़ना तय माना जा रहा है। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 8,300 के पार हो गई है।
वहीं, दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना से पीड़ित 5 मरीजों की मौत हो गई, जो राजधानी में अब तक एक दिन में सबसे ज्यादा है। नए मामले रोज बढ़ते जा रहे हैं। 166 नए केस के साथ ही कोरोना के मरीजों की संख्या के लिहाज से दिल्ली चार अंकों में पहुंचने वाला मुंबई के बाद दूसरा शहर बन गया है।

 
इस बीच, ICMR ने कहा है कि उसने शनिवार रात 9 बजे तक देश में 1,64,773 लोगों से कोविड-19 संक्रमण के लिए 1,79,374 सैंपल्स का टेस्ट किया है, जिसमें से 4.3 प्रतिशत पॉजिटिव पाए गए। राज्यों से मिली रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार को देश में कोविड-19 के 825 नए केस आए। इससे पहले सबसे ज्यादा शुक्रवार को 863 सामने आए थे।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 1,035 नए केस आए और 40 की जान चली गई। इससे आधिकारिक आंकड़ा 7,529 और देशभर में मौतों की संख्या 242 पहुंच गई। हालांकि हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के पास राज्यों की रिपोर्ट के आधार पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार देश में कोरोना वायरस के कुल मामले 8,426 और शनिवार को 32 और मौतों के साथ मृतकों की संख्या 290 पहुंच गई है।
 
महाराष्ट्र में शनिवार को लगातार सबसे ज्यादा 197 मामले सामने आए लेकिन दिल्ली में भी हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं। राजधानी में सामने आए 166 नए मामलों में से 128 का संबंध तबलीगी जमात की बैठक से है।

दिल्ली सरकार ने अपने अस्पतालों में कोविड-19 के मरीजों के लिए 2406 बेड निर्धारित किए हैं। सरकारी डेटा बताते हैं कि राज्य में तेजी से बढ़े मामलों के कारण अब केवल 32 प्रतिशत ही बेड खाली रह गए हैं। एक वरिष्ठ डॉक्टर ने कहा, 'दिल्ली में अगर इसी तेजी से मामले बढ़ते हैं तो हम संकट की स्थिति में पहुंच सकते हैं। ऐसे में सरकार को कोविड-19 ट्रीटमेंट के लिए ज्यादा अस्पतालों को लेना होगा।'

महाराष्ट्र में शनिवार को कोविड-19 से 17 मौतें हुईं, जिससे राज्य में मृतकों का आंकड़ा में देश में सर्वोच्च 127 पहुंच गया। राजस्थान में भी आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं। शुक्रवार को 98 के बाद शनिवार को 139 पर पहुंच गया। राज्य में कुल 700 मामले हो गए हैं।
 
तमिलनाडु में कोविड-19 के 58 नए मामले सामने आए हैं, जिससे यह 969 कोरोना पीड़ितों के साथ देश में तीसरा सबसे प्रभावित राज्य बन गया है।

वहीं, केरल जहां 30 जनवरी को कोरोना का पहला मामला सामने आया था, वहां दो महीने बाद मामले घट रहे हैं। शनिवार को यहां केवल 10 नए मामले दर्ज किए गए।

उत्तर प्रदेश में 21 नए केस रेकॉर्ड किए गए। झारखंड में तीन और लोगों के पॉजिटिव मिलने से राज्य का आंकड़ा बढ़कर 17 पहुंच गया है।
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close