उत्तर प्रदेशराज्य

कोरोना का कहर : उत्तर प्रदेश के 59 नए हॉटस्पॉट इलाके सील किए जाएंगे

लखनऊ 
उत्तर प्रदेश में योगी सरकार अब पिछले दो दिनों के दौरान राज्य में सामने आए कोरोना के 59 नए हॉटस्पॉट को सील करने की तैयारी कर रही है। राज्य सरकार ने बुधवार को 15 जिलों में 133 कोरोना वायरस हॉटस्पॉट को सील कर दिया था और दूसरे चरण में 25 जिलों में 59 अन्य हॉटस्पॉट शामिल होंगे।

अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने बताया कि लगभग 9 लाख की आबादी को कवर करने वाले कम से कम 1.4 लाख घर दूसरे चरण में कवर किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि दूसरे चरण का संचालन जिला अधिकारी अपने स्थानीय स्तर पर कर रहे हैं। मॉडल कोविड-19 पॉजिटिव रोगियों की पहचान करने, चिकित्सा सहायता प्रदान करने और क्षेत्र को सैनिटाजि करने की परिकल्पना के बारे में है।

अवनीश अवस्थी ने कहा कि यूपी सरकार के हॉटस्पॉट मॉडल को पूरे देश में व्यापक रूप से सराहा जा रहा है। उन्होंने कहा- लगभग 80 फीसदी मामले सिर्फ इन हॉटस्पॉट से सामने आ रहे हैं। सरकार ने 15 जिलों में चिह्नित 133 कोरोना हॉटस्पॉट में और सख्त कदम उठाने का फैसला किया है, जो 10 लाख से अधिक आबादी के साथ 1.57 लाख से अधिक घर कवर करते हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार 80 प्रतिशत से अधिक राशन कार्ड धारकों को घर-घर डिलीवरी के माध्यम से राशन मुहैया कराकर सामाजिक दूरी सुनिश्चित कर रही है। यह लगभग 2000 धार्मिक संगठनों द्वारा 7 लाख से अधिक भोजन पैकेटों के वितरण और जिले के अधिकारियों द्वारा 4 लाख से अधिक भोजन पैकेटों के वितरण से इतर है।

अवनीश अवस्थी ने कहा कि गृह विभाग ने लॉकडाउन उल्लंघन मामले में 15,300 से अधिक एफआईआर दर्ज की हैं और कम से कम 48,500 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बाद में उन्हें निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया। 2100 से अधिक वाहनों को जब्त किया गया और उनके पास से समन शुल्क के रूप में 6 करोड़ रुपये से अधिक वसूले गए।

उन्होंने कहा कि जमाखोरी और कालाबाजारी के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। 484 लोगों के खिलाफ कम से कम 385 एफआईआर दर्ज की गई हैं। फजीर् खबरें भी हमारे संज्ञान में आई हैं और साइबर सेल जांच कर रहे हैं। पिछले 24 घंटों में सरकार को 44 फर्जी खबरों की जानकारी मिली है। 

Related Articles

Back to top button
Close
Close