मध्य प्रदेशराज्य

कोरोना की दवा बता नाबालिगों को खिलाई नशीली दवा, मदद के बहाने महिला से छेड़छाड़

भोपाल
राजधानी भोपाल (Bhopal) में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की आड़ में क्राइम (Crime) होने लगा है. बीते दिनों, शहर से दो ऐसे मामले सामने आए हैं, जिसमें पहला मामला राहत सामग्री देने के बहाने महिला से फोन पर अश्‍लील बात करने का है. वहीं, दूसरा मामला कोरोना वायरस (Coronavirus) की दवा बताकर नाबालिगों को नशे की गोली खिलाने से जुड़ा है. पुलिस ने दोनों मामलों में एफआईआर (FIR) दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.

पहला मामला पुराने शहर के गांधीनगर थाना इलाके का है. महिला की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है. पीड़ित महिला ने पुलिस को बताया कि वह अपने तीन बच्चों और पति के साथ रहती है. पति के घर पर न होने की वजह से राशन खत्म हो गया था. किसी परिचित ने उन्हें एक व्यक्ति का मोबाइल नंबर दिया और यह बताया कि यह व्यक्ति नगर निगम और प्रशासन की तरफ से लोगों के घरों पर राशन पहुंचाने का काम करता है.

पीड़ित महिला का आरोप है कि परिचित द्वारा गिए गए मोबाइल नंबर पर उसने फोन किया और राशन घ्‍ज्ञर पहुंचाने का अनुरोध किया. इसी बीच, आरोपी ने फोन पर महिला से अश्लील बातें कहना शुरू कर दी. उसने राशन के अलावा उसे ₹1000 देने का लालच भी दिया. आरोप है कि आरोपी ने उसे उसके घर आने के लिए भी कहा. पीड़ित महिला की शिकायत पर पुलिस ने मोबाइल फोन नंबर के आधार पर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है.

वहीं, दूसरा मामला नए शहर के कमला नगर थाना क्षेत्र का है. यहां मांडवा बस्ती में रहने वाले दो युवकों ने बस्ती के ही दो नाबालिक को कोरोना की दवा बता कर नशे की गोलियां खिला दी. तबीयत खराब होने पर दोनों नाबालिग को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत खतरे से बाहर है. पुलिस ने बताया कि आरोपी ऋतिक और लक्की राजपूत नशे के आदी है और उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है. पुलिस अब यह पता लगा रही है कि लॉक डाउन के दौरान इन दोनों युवकों के पास नशे की गोलियां कहां से आई.

Related Articles

Back to top button
Close
Close