दुनिया

कोरोना के खिलाफ उत्तर कोरिया की लड़ाई तेज, बैठक में बिना मास्क दिखे किम जोंग

 
उत्तर कोरिया

 उत्तर कोरिया ने कोरोना वायरस के खिलाफ अपनी लड़ाई और तेज करने का ऐलान किया है. कोरोना वायरस का संक्रमण जानने के लिए टेस्ट और तेजी से बढ़ा दिए गए हैं. अभी तक 500 लोगों को क्वारनटीन में रखा गया है. यहां की सरकार का कहना है कि जरूरत पड़ी तो उच्च स्तर की इमरजेंसी घोषित की जाएगी, ताकि महामारी से निपटा जा सके.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने रविवार को इस बाबत एक बैठक की जिसमें कोरोना की स्थिति पर चर्चा की गई. तेजी से पांव पसारते कोरोना वायरस से देश के लोगों को कैसे बचाया जाए, इसकी तैयारियों पर बात की गई. बैठक की अध्यक्षता देश के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने की. बता दें, उत्तर कोरिया में लगातार टेस्ट किए जा रहे हैं. अभी तक 500 लोगों को क्वारनटीन में रखा गया है, लेकिन अभी तक पुष्ट मामले एक भी नहीं आए हैं. इस बात की जानकारी देश के विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रतिनिधि ने समाजार एजेंसी रॉयटर्स को दी.
 
दूसरी ओर, कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने कहा है कि कोरोना वायरस की वजह से देश की अर्थव्यवस्था पर गहरा असर पड़ा है. प्रशासन ने हालात को स्थिर रखने और कोरोना संक्रमण फैलने से बचाने के लिए कई कड़े कदम उठाए हैं. शनिवार को इस मुद्दे पर सत्तारूढ़ पार्टी की सेंट्रल कमेटी के पोलित ब्यूरो की बैठक हुई. बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि लोगों की जान बचाने और कोरोना महामारी को रोकने के लिए और कड़े कदम उठाए जाएंगे. पोलित ब्यूरो ने इसके लिए एक प्रस्ताव भी पारित किया.

कोरियन सेंट्रल एजेंसी ने बताया कि आर्थिक गतिविधियों को सुचारू रखने, राष्ट्रीय सुरक्षा को चुस्त बनाने और लोगों की आजीविका बनाए रखने के लिए इमरजेंसी लगाए जाने पर विचार किया जा रहा है. हालांकि जिस बैठक में सभी उच्च स्तरीय पदाधिकारी शामिल थे, उनमें किसी ने न तो मास्क लगाया था और न ही आपसी दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का ख्याल रखा गया था. किम जोंग भी बैठक में बिना मास्क नजर आए. दूसरी ओर शनिवार को दक्षिण कोरिया में 32 नए मामले सामने आए. इसी के साथ देश में कुल मरीजों की संख्या 10,512 हो गई है. शनिवार को 3 मौतों के साथ यहां मृतकों का आंकड़ा 214 पर पहुंच गया है.
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close