बिज़नेस

कोरोना संकट के बीच कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती पर सहमत हुए OPEC और रूस

विएना
कच्चे तेल के शीर्ष उत्पादक देश कीमतों में तेजी लाने के लिए उत्पादन में कटौती करने पर सहमत हो गए हैं। कुवैत के तेल मंत्री खालिद अल-फदेल ने रविवार को ट्विटर पर कहा, ‘हम उत्पादन में कटौती करने पर सहमति बनने की घोषणा करते हैं। ओपेक तथा अन्य उत्पादक देश एक मई से रोजाना उत्पादन में एक करोड़ बैरल की कटौती करेंगे।’

अधिकारियों ने बताया कि पेट्रोलियम निर्यातक देशों के समूह (OPEC) और दूसरे तेल उत्पादक देश प्रतिदिन 9.7 मिलियन बैरल उत्पादन कम करने पर सहमत हुए हैं। इसका मकसद तेल की कीमतों को बढ़ाना है।

रूस और सऊदी अरब के विवाद तथा कोरोना वायरस महामारी के कारण गिरी मांग से कच्चे तेल की वैश्विक कीमतें 30 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ गई हैं। इस फैसले पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'ओपेक प्लस के साथ अहम तेल समझौता हुआ है। इससे अमेरिका में ऊर्जा क्षेत्र की लाखों नौकरियां बच जाएंगी।'

ट्रंप ने रूस और सऊदी का शुक्रिया भी अदा किया। उन्होंने आगे लिखा, ' मैं रूस के राष्ट्रपति पुतिन और सऊदी के किंग सलमान का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। मैंने अभी ओवल ऑफिस से उनसे बात की है। सभी के लिए ग्रेट डील।

दरअसल, कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए किए जा रहे उपायों के चलते ईंधन की मांग बिल्कुल कम हो गई है जिससे तेल की कीमतें काफी घट गई हैं। इससे तेल उत्पादक देशों का बजट बिगड़ गया है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close