राज्य

पटियाला में कटा था जिस ASI का हाथ उसे CM अमरिंदर सिंह ने किया VIDEO कॉल, कहा- तुम बहुत बहादुर हो

चंडीगढ़। 
पंजाब के पटियाला जिले में रविवार (12 अप्रैल) को निहंगों के एक समूह ने पुलिस दल पर हमला कर दिया था और तलवार से एक पुलिस अधिकारी का हाथ काट दिया था। चंडीगढ़ स्थित पीजीआई के डॉक्टरों की एक टीम ने लगभग साढ़े सात घंटे की सर्जरी के बाद पंजाब पुलिस के सहायक उपनिरीक्षक (एएसआई) के बाएं हाथ को सफलतापूर्वक रि-इंप्लांट कर दिया। इसके बाद आज मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उस अधिकारी से वीडियो कॉलिंग के जरिए बात की।

एएसआई हरजीत सिंह से उन्होंने हाल जाना। साथ ही कहा कि आप बहादुर हो। उन्होंने ऑफिसर के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना कि साथ ही कहा कि कुछ भी दिक्कत हो तो स्थानीय एसपी और अन्य अधिकारियों को इसकी जानकारी दे दें।
 
इससे पहले पीजीआई ने एक बयान में कहा कि कटे हुए हिस्से को प्रारंभिक रूप से तैयार करने के बाद सुबह लगभग 10 बजे उसे फिर से जोड़ने का काम शुरू हुआ। सभी नसों और सिराओं को आपस में जोड़ा गया। सभी क्षतिग्रस्त हिस्सों को रिपेयर किया गया। तीन के-वायर्स का इस्तेमाल कर कलाई के सभी नर्व को हड्डी के साथ फिक्स किया गया। इन सब में लगभग 7.5 घंटे लगे।
 
पीजीआई ने कहा कि यह तकनीकी रूप से बहुत जटिल और चुनौतीपूर्ण सर्जरी थी, जिसे सफलतापूर्वक किया गया। पीजीआई ने बयान में कहा है कि सर्जरी के अंत में मूल्यांकन किया गया कि हाथ काम करेगा, और रक्त के अच्छे संचरण के कारण वह गरम भी था। पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता के एक फोन कॉल के बाद पीजीआई के निदेशक जगत राम ने ट्रॉमा सेंटर में आपात टीम को सक्रिय किया और प्लास्टिक सर्जरी के विभागाध्यक्ष रमेश शर्मा को हाथ को रि-इंप्लांट करने की जिम्मेदारी सौंपी।

PGIMER चंडीगढ़ के निदेशक प्रोफेसर जगत राम ने कहा, "पंजाब के DGP दिनकर गुप्ता के फोन करके मरीज की जानकारी देने के बाद रमेश शर्मा HOD प्लास्टिक सर्जरी ने डॉक्टर और अन्य लोगों की एक टीम तैयार की। मरीज (ASI हरजीत सिंह) की जांच करने के तुरंत बाद उन्हें सर्जरी के लिए भेज दिया गया था।"

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close