छत्तीसगढ़रायपुर

अचानक तालाब में पानी के ऊपर आ गई मछलियां,टूट पड़े लोग

रायपुर
राजधानी के पुरानी बस्ती स्थित बंधवा तालाब में मंगलवार को सतह पर आई सैकड़ों मछलियों को देखने और पकड?े के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। प्राणी वैज्ञानिक प्रो.एसके पति के अनुसार तालाब में आॅक्सीजन की कमी अथवा जहरीले किसी कीटनाशक के छिड़काव के कारण यह स्थिति निर्मित हुई होगी।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया पुरानी बस्ती स्थित बंधवातालाब में मंगलवार सुबह-सुबह सैकड़ों मछलियां सतह पर आ गई। सतह पर अनायास आई मछलियों की तेजी से फैली खबर के बीच स्थानीय लोगों में मछलियों को पकडऩे की होड़ लग गई। पचरी से उतर-उतरकर लोग बिना जाल की मदद से हाथों से मछलियां पकड?े लगे। इसी बीच लॉकडाउन का मुआयना करने निकले पुलिसकर्मियों ने मछली पकडऩे में जुटे लोगों को वहां से भगाया। प्रो.पति के अनुसार आमतौर पर मछलियां पानी में मौजूद आॅक्सीजन ग्रहण करती हैं, लेकिन मांधुर और सिंगी जैसी कुछ मछलियां एयर ब्रीदिंग होती हैं। ये मछलियां तालाब के सतह पर आकर आॅक्सीजन ग्रहण करती हैं।

बंधवापारा तालाब में मछलियों के सतह पर आने के दो कारण हो सकते हैं। पहला कारण तालाब में आॅक्सीजन की कमी हो सकता है। ये स्थिति संभवत: पानी की गहराई कम होने और सूर्य के प्रकाश के कारण निर्मित हुई होगी। दूसरा कारण यह हो सकता है कि तालाब में किसी तरह के ऐसे कीटनाशक का छिडकाव किया गया होगा। जो मछलियों के लिए घातक साबित हुई होगी।

प्रो. शम्स परवेज के अनुसार तालाब में धुलित आॅक्सीजन मात्रा में कमी के कारण मछली सतह पर आ रही होगीं। उनके अनुसार तालाब में आॅक्सीजन का मानक स्तर 7 से 8 पीपीएम होना चाहिए। इसमें आई कमी के कारण मछलियां सतह पर आ गई होगीं। इसके अलावा मवेशियों के गोबर एवं निस्तारीकरण पानी में धुलित आॅक्सीजन की कमी के लिए जिम्मेदार हो सकता है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close