मध्य प्रदेशराज्य

आई.आई.टी.टी. रणनीति का क्रियान्वयन आरंभ

भोपाल

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान की पहल पर कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिये प्रदेश में आई.आई.टी.टी. रणनीति का क्रियान्वयन आरंभ किया गया है। आइडेंटिफिकेशन, आइसोलेशन, टैस्टिंग और ट्रीटमेंट के चार स्तर पर आधारित इस रणनीति से प्रभावित क्षेत्रों में जल्द नियंत्रण संभव होगा।

अपर मुख्य सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण  मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि आई.आई.टी.टी. रणनीति के तहत सर्वप्रथम कोरोना संक्रमण प्रभावित/संभावित ऐसे क्षेत्रों को आइडेंटिफाई (चिन्हित) किया जा रहा है, जहाँ बाहर से लोग आये हैं या सांस या अन्य संबंधित बीमारी से ग्रस्त लोग अधिक संख्या में रह रहे हैं। इन क्षेत्रों को आइसोलेट करने के लिये नियंत्रण क्षेत्र (कैंटेनमेंट एरिया) के रूप में इन्हें चिन्हित किया जा रहा है। यहाँ बाहरी आवागमन प्रतिबंधित करते हुए आवश्यक सामग्री की आपूर्ति शासकीय एजेंसियों द्वारा की जायेगी। नियंत्रण क्षेत्र में रह रहे सभी लोगों का टेस्ट (परीक्षण) होगा और लक्षण के अनुसार ट्रीटमेंट (उपचार) किया जायेगा।

कोविड-19 के लक्षण और गंभीरता के आधार पर देख-रेख तथा उपचार के लिये तीन स्तरीय केन्द्र चिन्हित किये गये हैं। न्यूनतम लक्षण वाले लोगों को कोविड समर्पित स्वास्थ्य केन्द्र में और अधिक लक्षण से ग्रस्त मरीजों को कोविड समर्पित चिकित्सालयों में रखा जायेगा।  सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में त्वरित कार्यवाही के लिये 112 रेपिड रिस्पांस टीम और 154 मोबाइल हेल्थ टीम सक्रिय हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close