छत्तीसगढ़रायपुर

शर्तों के साथ उत्पादन शुरू करने से उद्योगों का इंकार, बताई ये बड़ी वजह

रायपुर
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के लघु और मध्यम उद्योगों (Small and Medium Scale Indutry) ने 40 फ़ीसदी मजदूरों के साथ काम लेने की शर्तों को मानने से इंकार कर दिया है. राज्य सरकार के उद्योग विभाग (Industry Department) द्वारा 40 फ़ीसदी कर्मचारियों के साथ काम शुरू करने के अलावा अन्य शर्तों के साथ प्रदेश के उद्योगों में उत्पादन शुरू करने की बात कही है. वहीं इच्छुक उद्योगपतियों को सरकार से संपर्क करने को भी कहा है. उद्योग विभाग ने अपनी अन्य शर्तों में मजदूरों के हाथ लगातार सैनिटाइज (Sanitize) करने, उनके ठहरने की और भोजन की व्यवस्था करने की भी शर्त रखी है.

वहीं दूसरी ओर उद्योगपतियों की दलील है कि सिर्फ 40 प्रतिशत कर्मचारियों से काम लेना मुश्किल है. वहीं प्रदेश के उद्योगों के उत्पाद ज्यादातर उन राज्यों में सप्लाई किए जाते हैं जहां अभी कोरोना ज्यादा फैला हुआ है. ऐसे में उत्पादन का भी कोई औचित्य नहीं रहेगा. चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष जीतेन्द्र बरलोटा का कहना है कि छत्तीसगढ़ में तैयार स्टील, सीमेंट की सप्लाई मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्रा और कर्नाटक में होता है. ऐसे में वहां माल सप्लाई करना भी मुश्किल है. लेकिन इन सभी बातों को लेकर एक बार फिर उद्योग इकाई की बैठक होगी और फिर फैसला लिया जाएगा.

मालूम हो कि कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी से लोगों को बचाने के लिए केंद्र सरकार (Government of India) ने लॉकडाउन (Lockdown Part-2) को आगे बढ़ाने का ऐलान किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India) ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की जानकारी दी है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close