देश

PM मोदी के संबोधन से पहले ही ये राज्य बढ़ा चुके हैं लॉकडाउन की मियाद

 
नई दिल्ली 

कोरोना के खिलाफ जंग में लॉक डाउन की मियाद आज पूरी होने वाली है. सवाल उठता है अब आगे क्या? इस सवाल का जवाब अब से कुछ घंटे बाद मिलने वाला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह दस बजे देश को संबोधित करने वाले हैं. हालांकि, उनके संबोधन से पहले कई प्रदेशों ने अपने यहां लॉकडाउन को बढ़ा दिया है.

बीते दिनों एक बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे समेत करीब 10 मुख्यमंत्रियों ने लॉक डाउन बढ़ाने का सुझाव दिया था. इतना ही नहीं कई राज्य ऐसे हैं, जहां लॉक डाउन की मियाद बढ़ा दी गई हैं.

इनमें सबसे पहले ओडिशा ने लॉकडाउन को 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ाया, फिर पंजाब ने 1 मई तक, महाराष्ट्र ने 30 अप्रैल तक, तेलंगाना ने 30 अप्रैल तक, राजस्थान ने 30 अप्रैल तक, कर्नाटक ने दो हफ्ते तक, पश्चिम बंगाल ने तीस अप्रैल तक और तमिलनाडु ने 30 अप्रैल तक बढ़ाने की बात की है. इसके अलावा पूर्वोत्तर के अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम और मेघालय भी लॉकडाउन की मियाद को 30 अप्रैल तक बढ़ा चुके हैं.
 
क्यों बढ़ाया जा रहा है लॉकडाउन

देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. रोजाना औसतन 796 नए मरीज सामने आ रहे हैं. देशभर में अब तक 9352 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. 324 लोगों की मौत हो चुकी है. राहत की बात ये है कि 980 लोग कोरोना से जंग जीत चुके हैं.
 
राज्यों में सबसे बुरा हाल महाराष्ट्र का है, जहां कोरोना पीड़ितों की संख्या 2334 तक जा पहुंची है. दूसरे नंबर पर राजधानी दिल्ली है. यहां 1510 मरीज अब तक सामने आए हैं. तमिलनाडु में 1173 लोग कोरोना के शिकंजे में हैं. राजस्थान 897, मध्य प्रदेश 614, उत्तर प्रदेश 558 लोग कोविड-19 वायरस से पीड़ित हैं.

20 दिन में 18 गुना बढ़े केस

24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में लॉकडाउन का ऐलान किया था, तब देश में कोरोना ने पांव पसारना बस शुरू ही किया था. 24 मार्च को देश में कोरोना के कुल केस सिर्फ 519 थे, जिनमें से पांच की मौत हो गई थी, जबकि केरल के तीन लोग ठीक हो गए थे.

20 दिन बाद 13 अप्रैल को देश भर में कोरोना के 9352 पॉजिटिव केस हो गए हैं, इनमें से 324 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 980 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं. यानी लॉकडाउन के ऐलान के 20 दिनों के भीतर कोरोना मरीजों की तादाद करीब 18 गुना बढ़ गई, जबकि मरने वाले संक्रमित लोगों की तादाद 61 गुना तक बढ़ गई.
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close