राज्य

केजरीवाल ने कहा- रहने और खाने की कोई कमी नहीं, दिल्ली में भी युमाना किनारे जुटे हजारों मजदूर

 नई दिल्ली 
एक दिन पहले मुंबई के बांद्रा में हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर जुटे थे लेकिन पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को काबू किया और राज्य सरकार उन प्रवासी मजदूरों को यह आश्वासन दिया कि उनके खाने-पीने में कोई दिक्कत नहीं होगी। इस घटना के एक दिन बाद ही देश की राजधानी में भी दिहाड़ी मजदूर हजारों की संख्या में दिल्ली के यमुना नदी के किनारे इकट्ठा हो गए। हालांकि, इन लोगों को वहां से शिफ्ट करने की कोशिश की जा रही है।

खबरों के मुताबिक, ये साफ नहीं है कि ये लोग अपने राज्य जाने के लिए इकट्ठा हुए थे या फिर क्या वजह थी। उधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यमुना नदी किनारे मजदूरों के जुटने की इस घटना पर ट्वीट किया है। केजरीवाल ने कहा, यमुना घाट पर मजदूर इकट्ठा हुए। उनके लिए रहने और खाने की व्यवस्था कर दी गई। उन्हें तुरंत शिफ्ट करने के आदेश दे दिए गए हैं। रहने और खाने की कोई कमी नहीं है। किसी को कोई भूखा या बेघर मिले तो हमें जरूर बताना।
 
यमुना घाट पर मज़दूर इकट्ठा हुए। उनके लिए रहने और खाने की व्यवस्था कर दी है। उन्हें तुरंत शिफ़्ट करने के आदेश दे दिए हैं।  रहने और खाने की कोई कमी नहीं है। किसी को कोई भूखा या बेघर मिले तो हमें ज़रूर बतायें।
 
गौरतलब है कि इससे एक दिन पहले लॉकडाउन के बावजूद मुंबई के बांद्रा स्टेशन के बाहर हजारों की संख्या में मजदूरों के जुटने की घटना सामने आने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली में भी ऐसी घटना हो सकती है। बकायदा उन्होंने इसे एक विडियो ट्वीट करते हुए मंगलवार की शाम को यह बात कही थी।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close