देश

कोरोना काल में भी PAK की साजिश संभव, संक्रमित आतंकी की करा सकता है घुसपैठ

नई दिल्ली                                                                            
कोविड- 19 संक्रमण ने सुरक्षा बलों के आतंकरोधी ऑपेरशन की चुनौती बढ़ा दी है। खुफिया एजेंसियों ने आशंका जताई है कि पाकिस्तान या उसके यहां पल रहे कट्टरवादी संगठन सीमा पार से कोरोना संक्रमित आतंकवादियों की घुसपैठ करा सकते हैं। पाकिस्तान के अलावा बांग्लादेश सीमा के जरिए आतंकी साजिश से सतर्क रहने को कहा गया है। पाकिस्तान सीमा पर सख्त निगरानी के साथ मित्रता वाली बांग्लादेश सीमा और नेपाल सीमा पर भी एहतियात बरती जा रही हैं।

सुरक्षा बल से जुड़े एक अधिकारी ने कहा कि हमें सजग रहने को कहा गया है। इसके चलते उच्च स्तर पर सतर्कता बरती जा रही है। निगरानी के लिए स्मार्ट तकनीक का प्रयोग भी किया जा रहा है। अधिकारी के मुताबिक संक्रमित व्यक्ति को सीमा में प्रवेश कराया जा सकता है।

किसानों की शक्ल में न आएं संदिग्ध : सूत्रों ने कहा बांग्लादेश सीमा आईबीबीएफ के आगे खेती रोकने की भी बड़ी वजह यही थी जिससे किसानों की शक्ल में कोई आतंकी साजिश कामयाब न हो पाए। अधिकारियों के मुताबिक कोविड- 19 के चलते सीमा पर ऑपरेशन का तरीका काफी बदल गया है।

घुसपैठ हुई तो बड़ा खतरा सुरक्षा एजेंसी से जुड़े सूत्रों ने कहा कि घुसपैठ में सफल होने पर आतंकी अमूमन किसी न किसी जगह पनाह लेते हैं। ऐसे में कोई भी सुरक्षा मानक उनके लिए बेमानी है। मूवमेंट के जरिए वे कई लोगों को संक्रमित कर सकते हैं। इसलिए घुसपैठियों की कोशिश सफल न हो इसके लिए सुरक्षा बलों को जीरो टॉलरेंस टारगेट दिया गया है। स्वास्थ्य प्रोटोकॉल लागू सुरक्षा बलों को आतंकरोधी ऑपरेशन के दौरान भी बहुत सतर्क रहने को कहा गया है। उन्हें सख्ती से स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश दिए गए है। किसी भी सुरक्षा ऑपरेशन के दौरान जवानों को मास्क, ग्लोव आदि से लैस रहने को कहा गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close