उत्तर प्रदेशराज्य

नई गाइडलाइन के तहत राज्य में शुरू होंगे निर्माण कार्य: योगी सरकार का फैसला

 
लखनऊ 

देश में जारी लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सूबे में 20 अप्रैल से सड़क, हाईवे, एक्सप्रेस वे, मेडिकल कॉलेज और बड़े हाउसिंग प्रोजेक्ट्स के निर्माण कार्य शुरू हो जाएंगे. यह कार्य केंद्र सरकार द्वारा जारी नई गाइडलाइन के तहत एहतियात बरतते हुए किए जाएंगे. एक चारदीवारी के अंदर स्थित औद्योगिक संस्थानों में भी काम शुरू हो सकेगा.

बता दें कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए 24 मार्च रात 12 बजे से देश लॉकडाउन है. करीब 20 दिनों से देश की कई फैक्ट्रियां, ऑफिस, दुकानें बंद हैं. हालांकि सरकार अब कुछ एहतियात के साथ धीरे-धीरे इसमें छूट दे रही है. बुधवार को ही केंद्र सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की.
 
केंद्र सरकार ने जारी की गाइडलाइन
लॉकडाउन पार्ट-2 को लेकर गृह मंत्रालय की ओर से आज गाइडलाइन जारी की गई है. इस गाइडलाइन के मुताबिक, न तो प्लेन चलेंगी और न ही मेट्रो या बस. पहले से जिन्हें छूट मिली है, वह जारी रहेगी. इसके अलावा कृषि से जुड़े कामों के लिए भी रियायत दी गई है. साथ ही ट्रेनों या बसों में कोरोना वॉरियर्स को आवाजाही की इजाजत दी गई है.

गाइडलाइन में कहा गया है कि कृषि से जुड़े कामों के लिए रियायत दी जाएगी. मनरेगा के तहत काम होगा. वहीं, औद्योगिक गतिविधियों पर रोक जारी रहेगी. सभी तरह के परिवहन सेवाओं पर रोक रहेगी. सावर्जनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य होगा. SEZ में औद्योगिक उत्पादन जारी रहेगा. इसके अलावा कुछ शर्तों के साथ ट्रकों को आवाजाही की इजाजत दी गई है. ग्रामीण इलाकों में औद्योगिक गतिविधियां जारी रहेंगी.

केंद्र ने मनरेगा के तहत कार्यों को जारी रखने का निर्देश दिया है. सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की अपील की गई है. इसके साथ राज्य सरकार की ओर किए जा रहे कंस्ट्रक्शन वर्क में भी रियायत दी गई है.
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close