मध्य प्रदेशराज्य

कोरोना के दृष्टिगत पेयजल स्रोतों के आसपास किया जा रहा है सेनिटाइज

भोपाल 
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग का अमला ग्रीष्मकालीन पेयजल समस्याओं के निराकरण के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ जुटा हुआ है। इसके लिए सभी स्तर पर नियंत्रण कक्ष बनाए जाकर प्रतिदिन समीक्षा की जा रही है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मुख्य अभियंता ने जानकारी देते हुए बताया कि भोपाल परिक्षेत्र के 8 जिलों में 10 अप्रैल से 14 अप्रैल तक प्राप्त 1791 शिकायतों में से 1693 शिकायतों का निराकरण किया जा चुका है। इसके अलावा सभी पेयजल स्रोतों के निर्जीवीकरण का कार्य भी किया जा रहा है। कोरोना के विषय में ग्रामों में जागरूकता एवं व्यक्तिगत दूरी बनाए रखने का संदेश भी दिया जा रहा है।

5133 हैण्डपम्प हुए चालू
लॉकडाउन अवधि में 14 अप्रैल तक विभाग द्वारा 8 जिलों में 5133 हैण्डपम्पों को सुधारकर चालू कराए जाने के साथ ही इनके आसपास क्षेत्र का सेनिटाइज भी किया गया। उल्लेखनीय है कि भोपाल संभाग के भोपाल, सीहोर, रायसेन, राजगढ़, विदिशा और नर्मदापुरम संभाग के होशंगाबाद, हरदा एवं बैतूल जिले में बिगड़े हैण्डपम्पों को सुधारकर चालू करवाए गए।
 

Related Articles

Back to top button
Close
Close