मध्य प्रदेशराज्य

कोरोना से लड़ने के लिए पूरे एक्शन में शिवराज सरकार, 11 अफसरों को सौंपी 52 जिलों की कमान

भोपाल
प्रदेश में तेजी के साथ फैल रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) को रोकने के लिए शिवराज सरकार अब पूरे एक्शन में है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अब 11 अफसरों को 52 जिलों में कोरोना वायरस को रोकने और बचाव की जिम्मेदारी सौंपी है. सीनियर आईएएस अफसर (IAS Officer) अब जिलों में कलेक्टर और प्रशासनिक अफसरों से बात कर हर दिन की रिपोर्ट लेने का काम करेंगे और हर दिन की समीक्षा रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपेंगे. जिलों से आने वाली डिमांड और उसकी आपूर्ति की जिम्मेदारी भी प्रशासनिक अफसरों के ऊपर होगी. सरकार ने भोपाल इंदौर और उज्जैन जिले की समीक्षा की कमान मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस को सौंपी है.

कोरोना संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में मुख्य सचिव अफसरों के साथ संपर्क साध कर फीडबैक लेने का काम करेंगे और मौके पर ही जरूरी दिशा निर्देश जारी करेंगे. इसके अलावा 11 अफसर 49 जिलों में कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर हर दिन समीक्षा करेंगे.

कौन से अफसर को कौन से जिले की जिम्मेदारी-

  • मनु श्रीवास्तव शोपुर मुरैना भिंड दतिया, ग्वालियर
  • नीरज मंडलोई बैतूल होशंगाबाद हरदा और सीहोर
  • रश्मि अरुण शमी रतलाम शाजापुर आगर मंदसौर और नीमच
  • दीपाली रस्तोगी धार अलीराजपुर झाबुआ खरगोन बड़वानी और बुरहानपुर
  • नीतेश व्यास सागर दमोह पन्ना छतरपुर टीकमगढ़ निवाड़ी
  • डीपी आहूजा जबलपुर कटनी नरसिंहपुर खंडवा और छिंदवाड़ा
  • मुकेश गुप्ता सिवनी मंडला डिंडोरी और बालाघाट
  • पवन शर्मा देवास रीवा सिंगरौली सीधी और सतना
  • कविंद्र कियावत गुना अशोकनगर उमरिया शहडोल अनूपपुर
  • बी चंद्रशेखर रायसेन राजगढ़ विदिशा और शिवपुरी देखेंगे
  • इंदौर भोपाल और उज्जैन मुख्य सचिव इकबाल सिंह बेस की निगरानी में रहेंगे

प्रदेश सरकार ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए आईएएस अफसरों के साथ ही जिला स्तर पर भी प्रशासनिक अफसरों के समूह का गठन किया है. पुलिस अधीक्षक जिला पंचायत सीईओ सीएमएचओ डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट होमगार्ड और नगर निगम के आयुक्त जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह के सदस्य होंगे और राज्य स्तर पर होने वाली मॉनिटरिंग में फीडबैक देने का काम करेंगे. साथ ही जिला स्तर पर उठाए जाने वाले कदमों को लेकर भी फैसला करेंगे.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close