मध्य प्रदेशराज्य

कोरोना से लड़ाई में स्व-सहायता समूहों की महिलाएँ बनीं कोरोना वारियर्स

भोपाल 
बैतूल जिले में कोरोना से लड़ाई में स्व-सहायता समूहों की महिलाएँ भी आगे आकर कोरोना वारियर्स के रूप में सहयोग कर रही हैं। मध्यप्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 32 महिला स्व-सहायता समूहों से जुड़ी 265 महिलाओं ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानक स्तर के 90 हजार मास्क तैयार कर जनपद पंचायतों, ग्राम पंचायतों, स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों को उपलब्ध कराए हैं। साथ ही यह तैयार मास्क ग्रामीण क्षेत्रों में भी वितरित किए जा रहे हैं। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एम.एल. त्यागी ने बताया कि एनआरएलएम के अंतर्गत गठित अन्नापूर्णा आजीविका समूह की महिलाओं द्वारा विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानक अनुसार 1200 लीटर सेनेटाइजर का निर्माण किया गया है। जिसको पुलिस, नगरपालिका, स्वास्थ्य विभाग एवं ग्राम पंचायतों को उपलब्ध कराया गया है।

जिले से समूहों की महिलाओं द्वारा कोरोना के खिलाफ मुहिम में अपने-अपने ग्रामों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की जानकारी जनसामान्य को देने का कार्य किया जा रहा है। इन महिलाओं ने दीवारों पर चित्र बनाकर एवं नारों के माध्यम से जनसामान्य को बीमारी से बचाव में सावधानियाँ रखने की जानकारी प्रदान की। जिले में पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट एवं एप्रिन उपलब्ध हो सके, इसके लिए भी स्व-सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा पीपीई किट एवं एप्रिन की सिलाई का कार्य भी शुरू किया जा रहा है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close