मध्य प्रदेशराज्य

गंभीर चोट के बाद भी दुकानों का निरीक्षण कर रहे खाद्य अधिकारी संतोष दुबे

भोपाल 

प्रदेश में सेवा भावी शासकीय अमले को कोरोना वायरस भी कर्त्तव्यों का पालन करने से नहीं रोक पा रहा है बल्कि यह अमला इस संकट में पूरे समर्पण भाव से अपने दायित्वों को निभाने में लगा हुआ है। इसकी मिसाल हैं बड़वानी जिले के सहायक खाद्य अधिकारी संतोष दुबे। इसी हफ्ते उचित मूल्य दुकानों पर खाद्यान वितरण व्यवस्था का निरीक्षण करते हुए संतोष सड़क दुर्घटना के शिकार हो गये। दुर्घटना में उनकी आँख के ऊपर गहरी चोट लगी, जिस कारण डॉक्टर ने टाँके लगाकर आराम की सलाह दी। सहायक खाद्य अधिकारी संतोष दुबे ने लाक डाउन में अपनी जिम्मेदारी को तवज्जो दी और डॉक्टर की बताई दवाएँ लेते हुए तुरंत अपनी ड्यूटी पर पहुँच गए। संतोष आज भी अपनी मोटर-साईकल से नियमित रूप से उचित मूल्य दुकानों का निरीक्षण कर रहे हैं, पीडीएस के हितग्राही परिवारों को खाद्यान वितरण व्यवस्था पर पैनी नजर रखे हुए हैं। इनका मानना है कि इस विपत्ति में गरीब का चूल्हा जलना ज्यादा जरूरी है। इसलिए थोड़ी-बहुत चोट कोई मायने नहीं रखती।

Related Articles

Back to top button
Close
Close