उत्तर प्रदेशराज्य

बेसहारा महिला का पुलिस ने पहले कराया इलाज, फिर मौत के बाद दिया अर्थी को कंधा

 सहारनपुर बड़गांव                                                                                                             
उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक बेसहारा वृद्धा के लिए पुलिस देवदूत बन कर आई। बीमार वृद्धा को पुलिस ने न सिर्फ उपचार दिलाया बल्कि उपचार के दौरान मौत के बाद उसके शव को कंधा देकर मानवता का धर्म भी निभाया।

कोराना संकट में पुलिस लोगों की हर संभव मदद कर रही है। सहारनपुर के गांव जड़ौदा पांडा के मजरे में एक बेसहारा बीमार करीब 70 वर्षीय वृद्धा मीना समय से बीमार थी। कोरोना के चलते कोई उनकी मदद को आगे नहीं आ रहा था। मामला पुलिस के संज्ञान में आने पर मंगलवार को पुलिस ने वृद्धा को खाना खिलाया और उपचार के लिए नानौता अस्पताल में भर्ती कराया। जहां रात में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

वृद्धा की मौत की खबर के बाद भी कोई ग्रामीण नहीं पहुंचा। यह जानकारी मिलने पर बड़गांव थाने के एसएसआई दीपक चौधरी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर मृतका की अंतिम यात्रा में अर्थी को कंधा देकर मानवता का धर्म निभाया। बड़गांव पुलिस के इस कार्य की चारो ओर सराहना हो रही है। महिला के कोई संतान न होने पर वह पति की मौत के बाद बेसहारा हो गई थी। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सराहा
दलित महिला का संस्कार करने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सहारनपुर पुलिस को सराहा।

Related Articles

Back to top button
Close
Close