मध्य प्रदेशराज्य

मध्यप्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामले पर कांग्रेस का तंज, शिवराज लाए कोरोना

 नई दिल्ली 
मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर प्रदेश कांग्रेस ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर एक बार फिर निशाना साधा है। कांग्रेस ने यह आरोप लगाया है कि राज्य में शिवराज का पहला मकसद उनकी सरकार को गिराना था और इसीलिए देश में लॉकडाउन को सही समय पर लागू नहीं किया गया।

इस बीच, मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर एक हजार से अधिक हो गई, जबकि इस बीमारी से अब तक 53 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। आधिकारिक जानकारी के अनुसार इंदौर में पिछले चौबीस घंटों के दौरान 152 नए मामले मिले, जिसमें से 110 मामले दिल्ली भेजी गई, जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाए गए। इसे मिलाकर इंदौर में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर अब 696 हो गई, जो प्रदेश में सबसे अधिक है। इस बीमारी से इंदौर में अब तक 37 मरीजों की मौत हो चुकी है।

मध्यप्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट किया, "मध्यप्रदेश में यदि शिवराज का कांग्रेस सरकार गिराने का मिशन नहीं होता, तो लॉकडाउन पहले ही लागू हो जाता और संक्रमण नहीं फैलता।"
 
एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा, "मार्च 3 से 12- दुनिया में कोरोना से हाहाकार, बीजेपी 22 विधायक लेकर बैंगलोर… मार्च 13 से 19- स्कूल, सिनेमा, मॉल सब बंद, बीजेपी की फ़्लोर टेस्ट की मांग… मार्च 20 से 23- कमलनाथ सरकार गिराई, शिवराज मुख्यमंत्री बने… मार्च 24 को बीजेपी का मिशन पूरा और लॉकडाउन शुरू।" मध्यप्रदेश कांग्रेस के ट्वीट के साथ ही #शिवराजलाएकोरोना ट्रेंड करने लगा।
 
भोपाल में तेजी से बढ़ा कोविड-19 का संक्रमण
भोपाल में कोरोना पीड़ितों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। यहां 168 कोरोना संक्रमित अब तक मिले हैं। इसके अलावा 5 लोग अपनी जान भी गंवा चुके है, जो पहले से गंभीर बीमारी से पीड़ित थे। प्रदेश में अब तक इंदौर और भोपाल ही सबसे प्रभावित रहे हैं, लेकिन अब उज्जैन, खंडवा और खरगोन में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो गया है। उज्जैन में अब तक 30 मरीज और पांच की मौत हुई, वहीं, खंडवा में संक्रमितों का आंकड़ा 32 पहुंच गया। खरगोन में यह आंकडा बढ़कर 39 हो गया, जिसमें से तीन संक्रमितों की अब तक यहां मौत हुई है।

इसके अलावा मुरैना में 14, जबलपुर में 12, ग्वालियर में 6, शिवपुरी में 2, छिंदवाड़ा में 4, बडवानी में 22, बैतूल में एक, विदिशा में 13, श्योपुर में 3, होशंगाबाद में 16, रायसेन में 4, देवास में 15, धार में 3, सागर में एक, शाजापुर में 4, मंदसौर में 2, रतलाम में 12, सतना में 2, टीकमगढ़ में एक, आगर-मालवा में 3 और अलीराजपुर में एक मरीज अब तक मिले हैं। प्रदेश में अब तक 53 लोगों की इस बीमारी से मृत्यु हुई है। प्रदेश में अब तक इस बीमारी से 64 लोग स्वस्थ हुए, जिसमें इंदौर में 39, भोपाल में 3, जबलपुर में 5, ग्वालियर में 2, शिवपुरी में 2, उज्जैन में 5, खरगोन में 2, मुरैना में 7 मरीज अब तक स्वस्थ हुए हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close