देश

सेनाध्यक्ष जनरल नरवणे का कश्मीर दौरा आज, LOC पर आतंकी घुसपैठ के खिलाफ सैन्य ऑपरेशन का लेंगे जायजा

 नई दिल्ली 
इंडियन आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे आज (गुरुवार) को कश्मीर का दौरा करेंगे और वहां चल रहे अभियानों की समीक्षा करेंगे। सेनाध्यक्ष नियंत्रण रेखा के पास संघर्ष विराम उल्लंघन और आतंकवादी गतिविधियों में वृद्धि के मद्देनजर घाटी का दौरा करेंगे।

इस यात्रा का महत्व इसलिए है क्योंकि पाकिस्तानी सेना ने भारत में आतंकवादियों को घुसपैठ कराने के अपने प्रयासों को फिर से तेज कर दिया है। साथ ही अपने उद्देश्यों को पूरा करने के लिए बड़े पैमाने पर संघर्ष विराम उल्लंघन भी कर रही है। सेना के सूत्रों ने बताया, सेना प्रमुख 15 कोर द्वारा चलाए जा रहे। आतंकवाद-रोधी और घुसपैठ रोधी अभियानों की समीक्षा करने के लिए श्रीनगर में होंगे।

गौरतलब है कि हाल ही में भारतीय सेना ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में दुधनियाल क्षेत्र में आतंकवादी लॉन्च पैड पर सटीक हमले किए थे। हाल ही में भारतीय सेना ने भी एक अप्रैल को केरन सेक्टर से घुसपैठ करने वाले पांच आतंकवादियों को मार गिराया था। 

पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में दो घायल
जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी सेना द्वारा रातभर की गई गोलाबारी में 10 वर्षीय एक लड़की सहित एक परिवार के दो सदस्य घायल हो गए। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि सीमा पार से मोर्टार का एक गोला मांजाकोट सेक्टर के राजधानी क्षेत्र के लामिबारी गांव में नजीर हुसैन के घर पर गिरा। इससे दो व्यक्ति घायल हो गए। उन्होंने बताया कि भीषण गोलाबारी के बीच स्थानीय पुलिस स्टेशन के प्रभारी मंजूर कोहली के नेतृत्व में एक पुलिस दल ने दोनों घायलों, 70 वर्षीय रफीक खान और सोनिया शब्बीर को बचाया और जिला अस्पताल राजौरी ले गए।

पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार देर रात पास के पुंछ जिले के बालाकोट और मेंढर के अलावा इस सेक्टर के अग्रिम गांवों को निशाना बनाकर गोलाबारी की। अधिकारियों ने बताया कि भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई की और दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी रुक-रुक कर कई घंटों तक होती रही। अधिकारियों ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना को हुए नुकसान का पता तुरंत नहीं लग पाया है। पाकिस्तानी रेंजरों ने कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास वाले क्षेत्रों में भी गोलाबारी की, जिससे सीमावर्ती निवासियों में दहशत फैल गई।
 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close