देश

5 लाख यात्री…ट्रेन चली तो यूं थम जाएगी मुंबई!

मुंबई
दो दिन पहले ही मुंबई के बांद्रा रेलवे स्टेशन के पास हजारों प्रवासी मजूदरों की भीड़ इकट्ठा हो गई थी। सभी घर जाने की मांग कर रहे थे। लॉकडाउन के बीच इतने सारे लोगों के इकट्ठा होने से प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए थे। इस बीच रेलवे की ओर से एक चौंकाने वाला सर्वे सामने आया है जिसके अनुसार, अगर इस वक्त ट्रेन चलाई जाती है, तो एक ही दिन में मुंबई सेंट्रल से सूरत तक करीब पांच लाख लोगों की भीड़ स्टेशनों पर जुट सकती है।

करीब 3-4 दिन पहले तक रेलवे को नहीं पता था कि लॉकडाउन का आगे क्या स्टेटस रहने वाला है। इसी दौरान रेलवे में आरपीएफ की इंटेलिजेंस की टीम में एक सर्वे किया, जिसके माध्यम से पता करना था कि अगर ट्रेन चली, तो कितने यात्रियों की भीड़ जुट जाएगी। पश्चिम रेलवे पर हुए सर्वे में पता चला कि एक ही दिन में मुंबई सेंट्रल से सूरत तक करीब पांच लाख लोगों की भीड़ स्टेशनों पर जुट सकती है।

…लेकिन ट्रेन नहीं चलेगी
बहरहाल, अब लॉकडाउन की समय सीमा 3 मई तक बढ़ा दी गई है। रेलवे की ओर से स्पष्ट किया गया है कि अगला आदेश मिलने तक किसी भी प्रकार की यात्री ट्रेनों का संचालन नहीं होगा। अभी रेलवे सिर्फ पार्सल लाने और ले जाने वाली ट्रेनों का ही परिचालन कर रहा है।

टिकट बुकिंग रद्द
लॉकडाउन बढ़ने के साथ ही रेलवे ने 3 मई तक ऑनलाइन और काउंटर पर मिलने वाली टिकट बुकिंग रद्द कर दी है। जिन यात्रियों के 3 मई तक के टिकट हैं, उनकी टिकट स्वतः ही रद्द हो जाएंगी। यात्री खुद से टिकट कैंसल न करें। ऑनलाइन टिकट का रिफंड ऑनलाइन होगा, जबकि काउंटर पर बुक की गई टिकट का रिफंड अगले तीन महीनों में कभी भी लिया जा सकता है।

इसके अलावा जिन यात्रियों ने काउंटर पर टिकट बुक कराते समय मोबाइल नंबर दिया, वे यात्रा वाले दिन के बाद 139 पर SMS भेजकर टिकट रद्द करा सकते हैं।

यात्री संबंधित सर्वे

मुंबई सेंट्रल टर्मिनस- 60 हजार यात्री

बांद्रा टर्मिनस – 2 लाख यात्री

बोरीवली- 2.5 लाख यात्री

वलसाड- 1 लाख यात्री

सूरत/उधना- 4 लाख यात्री

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close