बिलासपुर

रेलवे गार्ड से धोखाधड़ी के मामले में लोको पायलट गिरफ्तार

Spread the love

बिलासपुर
रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर एसपी जनदर्शन में रेलवे के गार्ड के द्वारा मिली शिकायत के बाद सरकंडा पुलिस ने  बिहार के पटना जिला अंतर्गत फुलवारी शरीफ थाना क्षेत्र के कुरकुरी गांव से लोको पायलट ऋषिकेश कुमार को धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार कर बिलासपुर लेकर पहुंची।

सरकंडा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि बुधवार को एसपी दीपक झा के जनदर्शन में मोपका निवासी रेलवे के गार्ड डीएन रवि ने धोखाधड़ी की शिकायत की थी। पीड़ित ने बताया कि उनके परिचित एसएन यादव ने लोको पायलट ऋषिकेश कुमार से मुलाकात कराई थी। बातचीत के दौरान लोको पायलट ने रेलवे के अधिकारियों से अपनी पहचान बताकर नौकरी लगवाने की बात कही। इस पर गार्ड ने अपने भाई दिवाकर रवि और भांजे शिवशक्ति की नौकरी लगवाने के लिए एक लाख 10 हजार रुपये दे दिए। इसके बाद भी दोनों की रेलवे में नौकरी नहीं लग सकी। इसी बीच लोको पायलट ऋषिकेश कुमार का तबादला बिहार के सोनपुर डिवीजन में हो गया। वहीं लेनदेन के समय वहां मौजूद एसएन यादव भी मुकर गया। इसके बाद गार्ड अपनी शिकायत लेकर थाने के चक्कर काट रहे थे। इसी बीच रेलवे के गार्ड ने एसपी से शिकायत के बाद सरकंडा पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। वाट्सएप चैट और बातचीत की रिकार्डिंग मिलने के बाद आरोपित की तलाश में पुलिस की एक टीम को बिहार के पटना जिला अंतर्गत फुलवारी शरीफ थाना क्षेत्र के कुरकुरी गांव भेजकर आरोपित की जानकारी जुटाई गई। इसी बीच पता चला कि आरोपित अपने घर में ही है, इस पर पुलिस आरोपी को उसके घर से गिरफ्तार कर पटना के न्यायालय में पेश किया गया जहां से ट्रांजिट रिमांड लेकर आज सुबह बिलासपुर पहुंची, जहां आरोपी से कड़ाई से पूछताछ की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close