बिलासपुर

कोरोना काल के बाद फिर से पेंट्रीकार में पकेगा भोजन

Spread the love

बिलासपुर
कोरोना महामारी के बाद से ट्रेनों के पेंट्रीकार में भोजन पकना बंद हो गया था, लेकिन अब कोरोना महामारी की रफ्तार कम होने की वजह से एक बार फिर से दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की ट्रेनों के पेंट्रीकार में भोजन पकना शुरू हो जाएगा। मुख्यालय से बिलासपुर स्थित क्षेत्रीय कार्यालय में आदेश पहुंच गया है लेकिन अभी यह तय नहीं है कि सुविधा कब से शुरू होगी। पुराने लाइसेंसी को ही संचालन की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी या नए सिरे से टेंडर होगा। कार्यालय से आदेश जारी होने के बाद यात्रियों को सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।

अभी वर्तमान में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन की सात ट्रेनों में पेंट्रीकार की सुविधा उपलब्ध है। कोरोनाकाल से पहले इन ट्रेनों में भोजन व नाश्ता दोनों बनाने की अनुमति थी, लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस पर पाबंदी लगा दी गई। इसके बाद से केवल पैकेट बंद ही सामान बिक रहे हैं। इन्हीं सामानों की बिक्री के लिए पेंट्रीकार का ठेका भी हो रहा था। हालांकि यह व्यवस्था कारगर नहीं हुई। लाइसेंस ठेका लेने के बाद बामुश्किल एक या दो फेरी सुविधा देने के बाद ठेकेदार ने हाथ खींच ली, पर अब रेलवे बोर्ड ने पेंट्रीकार में खाना पकाने की अनुमति दे दी है। आदेश आइआरसीटीसी मुख्यालय को मिलने के बाद सभी क्षेत्रीय कार्यालय को जानकारी भेजी गई है जिसमें बिलासपुर भी शामिल है। आदेश में यह नहीं दशार्या गया है कि कब से यह सुविधा शुरू होगी। इसके अलावा ठेके को लेकर भी असमंजस की स्थिति है, क्योंकि कोरोना संक्रमण के कारण जब ट्रेनों का परिचालन बंद हुआ उस समय पेंट्रीकार के लाइसेंसी की चिंता बढ़ गई थी। सबसे ज्यादा उस राशि को लेकर थी, जिसे उन्होंने लाइसेंस फीस के रूप में जमा किया था। हालांकि बाद में आदेश के बाद सभी लाइसेंसी की जमा राशि लौटा दी गई। नया टेंडर मंगाया जाएगा या उसी लाइसेंस धारी ठेकेदार को ठेका दिया जाएगा इस पर एक या दो दिनों में बिलासपुर स्थित क्षेत्रीय कार्यालय निर्णय ले लेगा इसके बाद फिर से पेंट्रीकारों में भोजन पकना शुरू हो जाएगा और यात्रियों को इसकी सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close