राज्य

Coronavirus lockdown: आईआईटी पटना बना रहा रोबोट, मेडिसिन डिलीवरी करेगा

 पटना 
आईआईटी पटना के इन्क्यूबेशन सेंटर में इन्क्यूबेट करने वाली स्टार्टअप कंपनी सिबिलाइन रोबोटिक्स ने हेल्थकेयर पेशेवरों के लिए फेस शील्ड बनाया है। इसे पहनने के बाद डॉक्टर और हेल्थ पेशेवर वायरस से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने के बाद भी खुद का बचाव कर सकेंगे। मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग और आईआईटी पटना का इन्क्यूबेशन सेंटर इस शील्ड के विकास और निर्माण में टीम के साथ मिलकर काम कर रहा है। संस्थान की मीडिया प्रभारी डॉक्टर मेघना दत्ता ने बताया कि इसके अलावा सिबिलाइन रोबोटिक्स कंपनी आईआईटी पटना के इन्क्यूबेशन सेंटर के मार्गदर्शन में मेडिसिन डिलीवरी रोबोट भी बना रही है यह अभी अंडर डेवलपमेंट है।

मेडिसिन डिलीवरी करेगा
टीम में शामिल सदस्यों को उम्मीद है कि रोबोट का निर्माण भी जल्दी कर लिया जाएगा ताकि जरूरत के समय विभिन्न अस्पतालों को मदद मिल सके। इस रोबोट के बनने से संक्रमण के खतरे में कमी आएगी। इस टीम में पंकज कुमार, अमित कुमार और रितेश कुमार शामिल हैं। टीम के सदस्य इस महामारी को रोकने के लिए लगातार काम कर रहे है। ये लोग सैनेटाइजिंग ड्रोन और रोबोट, नर्सिंग रोबोट जैसे अलग-अलग प्रोजेक्ट पर भी काम कर रहे हैं। डॉक्टर मेघना ने बताया कि फेसशील्ड हेल्थकेयर स्टाफ द्वारा उपयोग किए जाने वाले व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों का हिस्सा है। फेस शील्ड में उपयोगकर्ता के आराम के लिए फ्रेम, शील्ड, इलास्टिक स्ट्रैप और उचित फिटिंग के लिए फोम शामिल हैं। टीम में शामिल सदस्यों ने बताया कि डॉक्टरों से अब तक की प्रतिक्रिया इसके आरामदायक और ईजी मैकेनिक्स के कारण बहुत सकारात्मक रही है। बताया कि इनक्यूबेशन सेंटर और मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग में उपलब्ध सुविधाओं का उपयोग कर फेस शील्ड का विकास किया गया है। मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अतुल ठाकुर और डॉ. ऋषि राज तथा इन्क्यूबेशन सेंटर के प्रभारी प्रमोद तिवारी के मार्गदर्शन व पर्यवेक्षण में यह शील्ड बनाया गया है।

 

फ्री में फेस शील्ड उपलब्ध करवाने का निर्णय कंपनी ने शील्ड के परीक्षण के लिए रुबन अस्पताल, पटना में 25 फेस शील्ड का पहला लॉट भेज दिया है। इसके अलावा 75 यूनिट का प्रोडक्शन किया जा रहा है जो एनएमसीएच पटना को दिया जाएगा। कंपनी ने कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्य सेवा प्रदान कर रहे लोगों के लिए सामाजिक उद्देश्य के तौर पर फ्री में फेस शील्ड उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है। पटना के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में 200 फेस शील्ड देने का लक्ष्य कम्पनी का है।

Related Articles

Back to top button