बिज़नेस

इस साल 2% से भी कम रहेगी भारत की GDP ग्रोथ, फिर भी दुनिया में सबसे तेज बढ़त: IMF

नई दिल्ली

    IMF के अनुसार 2020 में सिर्फ 1.9 % होगी भारत की GDP ग्रोथफिर भी यह दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था होगाकोरोना की वजह से सिर्फ भारत और चीन में होगी पॉजिटिव ग्रोथचीन की जीडीपी में इस साल 1.2 फीसदी की बढ़त हो सकती है

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने कहा कि साल 2020 में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में ग्रोथ की दर 1.9 फीसदी के करीब रह सकती है, इसके बावजूद यह दुनिया में सबसे तेज गति होगी. असल में कोरोना की वजह से दुनिया के ज्यादातर देशों की अर्थव्यवस्था सिकुड़ जाएगी और इस साल 1930 के महामंदी के बाद की सबसे बड़ी मंदी आ सकती है.

आईएमएफ का यह अनुमान यदि सच साबित होता है तो 1991 के आर्थिक उदारीकरण के बाद यह भारत की सबसे कम विकास दर होगी. हालांकि, आईएमएफ ने ताजा वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक में भारत को सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्थाओं में रखा है.

चीन की चाल भी होगी सुस्त

आईएमएफ ने कहा है कि केवल दो बड़े देश भारत और चीन ही 2020 में पॉजिटिव ग्रोथ हासिल कर पाएंगे. भारत के अलावा चीन की ही जीडीपी ग्रोथ पॉजिटिव होगी जो 1.2 फीसदी की गति से बढ़ सकता है.

दुनिया के जीडीपी ग्रोथ में 3 फीसदी की गिरावट

आईएमएफ की मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ ने कहा, 'हम वैश्विक विकास दर 3 फीसदी तक गिरने यानी नेगेटिव ग्रोथ का अनुमान लगा रहे हैं. यह जनवरी 2020 के बाद अनुमान में 6.3 फीसदी कमी है. बहुत कम समय में अनुमान में बड़ा फेरबदल हुआ है.' उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना महामारी का सभी क्षेत्रों में बुरा असर होगा.

अगले साल आएगा सुधार

आईएमएफ ने यह उम्मीद भी जताई कि 2021 में दुनिया की अर्थव्यवस्था में आंशिक सुधार आएगा, हालांकि यह आंशिक ही होगा. पहले जिस तरह से अनुमान लगाया गया था, अब कोरोना की वजह से वैसा सुधार संभव नहीं होगा. गौरतलब है कि आईएमएफ ने साल 2021 में दुनिया की इकोनॉमी में 5.8 फीसदी की ग्रोथ होने का अनुमान लगाया था, लेकिन अब इसको लेकर काफी अनिश्चितता है.

Related Articles

Back to top button