खेल

कोरोना वायरस का कहर, कई खेल प्रतियोगिताओं पर पड़ रहा असर

नई दिल्ली
कोरोना के कारण खेल जगत पर छाई अनिश्चितता का तुरंत कोई हल दिखाई नहीं दे रहा, बल्कि खेल प्रतियोगिताओं के भविष्य पर लगा यह ग्रहण गहराता जा रहा है। इसका असर ओलिंपिक समेत कई बड़े खेल इवेंट पर पड़ा है। ज्यादातर खेल प्रतियोगिताएं, क्रिकेट सीरीज और फुटबॉल मैच या तो स्थगित कर दिए गए हैं या उन्हें रद्द किया जा चुका है। कोरोना से बचाव के तौर पर कई देशों में लॉकडाउन घोषित है। भारत में भी लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने का फैसला किया गया है।

कई खेलों पर पड़ा असर-

  1. भारत में फुटबॉल की घरेलू प्रतियोगिता आई-लीग के बचे हुए 28 मैच रद्द होने तय हैं। प्रतियोगिता को बीच में रोक दिया गया था। मोहन बागान को आधिकारिक रूप से विजेता घोषित किया जाएगा
  2. भारतीय ऐथलेटिक्स फेडरेशन ने उम्मीद जताई है कि देश में कोरोना वायरस की स्थिति में सुधार होगा और सितंबर से घरेलू टूर्नमेंटों की शुरुआत की जा सकती है।
  3. पूरे भारत में देशव्यापी लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ने के साथ ही हॉकी इंडिया ने मंगलवार को अपनी सभी नैशनल चैंपियनशिपों को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी है।
  4. स्पोर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (साई) के देशभर के सभी ट्रेनिंग कैंप 3 मई तक स्थगित रहेंगे। लॉकडाउन में विस्तार की घोषणा करने के बाद यह फैसला किया गया।
  5. जून में प्रस्तावित फ्रांस के फॉर्म्युला वन ग्रां प्री को बंद दरवाजों के अंदर आयोजित करने के प्लान पर आने वाले दिनों में होगा फैसला।
  6. वर्ल्ड फुटबॉल की सर्वोच्च संस्था फीफा के उपाध्यक्ष विक्टर मोंटेगलियानी ने कहा है कोरोना वायरस महामारी के कारण यात्रा प्रतिबंधों और क्लब प्रतियोगिताओं को पूरा मौका देने के लिए इंटरनैशनल मैचों को 2021 तक टाला जा सकता है।

Related Articles

Back to top button