खेल

मोहम्मद शमी ने बताई ऐतिहासिक हैटट्रिक की कहानी, यूं प्लानिंग के साथ किया तीनों बल्लेबाजों को आउट

नई दिल्ली
कोरोना वायरस की वजह से जारी लॉकडाउन के समय में क्रिकेटर्स फैन्स से जुड़ने के लिए सोशल मीडिया से लाइव चैट का सहारा ले रहे हैं। इस क्रम में मोहम्मद शमी और इरफान पठान एक साथ इंस्टाग्राम पर लाइव आए। इस दौरान इरफान के पूछने पर मोहम्मद शम ने इंग्लैंड में खेले गए वनडे वर्ल्ड कप के दौरान ली गई ऐतिहासिक हैटट्रिक के बारे में बात की। उन्होंने बताया किस तरह उस मैच में प्लानिंग के साथ हैटट्रिक ली थी। इरफान से बातचीत में शमी ने बताया, 'मैच काफी तगड़ा हुआ था। अफगानिस्तान ने बहुत अच्छा खेला और मैच कांटे का हो गया था।' बता दें कि टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अपनी शानदार हैटट्रिक के दम पर भारत को अफगानिस्तान पर 11 रन से जीत दिलाई थी। एक वक्त अफगान टीम भारत पर हावी दिखने लगी थी लेकिन शमी के जोरदार अंतिम ओवर ने टीम इंडिया को इस वर्ल्ड कप की चौथी जीत दिला दी।

माही भाई ने दी ये सलाह
उन्होंने लाइव चैट के दौरान हैटट्रिक के बारे में कहा, 'ओवर की 5वीं गेंद करनी थी और मैं हैटट्रिक पर था तो माही भाई मेरे पास आए। उन्होंने मुझसे कहा- क्या हुआ तेरे दिमाग में क्या चल रहा है। मैंने उनसे कहा- कुछ नहीं माही भाई बस वो तीनों डंडी (स्टंप) दिख रही है। वो बोले- तुम अच्छा कर रहे हो। जैसे कर रहे हो वैसा ही करो, लेकिन गेंद तेज फेंकना। मैंने कहा- हां भाई।' इसके बाद शमी बोलते हैं, 'माही भाई के जाते ही मैंने निश्चय किया कि गेंद की रफ्तार 140 से अधिक रखनी है और जड़ में फेंकना है। मैंने यही किया भी और मुजीब बोल्ड हो गए।'

…और आखिरी गेंद
इस पर शमी इरफान हंसते हुए कहते हैं, 'मुझे पता था कि 140 km/h से अधिक तेज गेंद होती है तो अच्छे-अच्छे बल्लेबाज के समझ में नही आती वो तो फिर भी गेंदबाज था। डंडी उड़ गई।' बता दें कि शमी वर्ल्ड कप में हैटट्रिक लेने वाले दूसरे भारतीय बोलर बने थे। शमी से पहले चेतन शर्मा ने 1987 वर्ल्ड कप में न्यू जीलैंड के खिलाफ नागपुर में यह उपलब्धि अपने नाम की थी।

ऐसी थी हैटट्रिक….
तीसरी गेंद: नबी कैच आउट
एक बार फिर शमी की गेंद पर नबी (52) ने लॉन्ग ऑन क्षेत्र में शॉट खेल दिया। हवा में यह गेंद। फैन्स और टीम इंडिया की सांसे अटक सी रही थीं कि तभी गेंद के नीचे हार्दिक पंड्या दिखाई दिए और उनके हाथ में आसान सा कैच। भारत को 8वीं सफलता और यहां से मैच टीम इंडिया की मुट्ठी में आता हुआ दिखने लगा।

चौथी गेंद: आफताब आलम बोल्ड
परफैक्सट यॉर्कर इस बार नया बल्लेबाज जब तक शमी की इस गेंद को भांप पाए और अपना बल्ला अड़ा पाए। गेंद सीधे विकेटों पर। बोल्ड। हालांकि आफताब ने यहां तेजी से बैट चलाया था लेकिन बॉल और बैट में कोई संपर्क नहीं। शमी को इस ओवर में लगातार दूसरी और मैच में तीसरी सफलता। हैटट्रिक चांस पर शमी।

पांचवी गेंद: मुजीब उर रहमान- बोल्ड और हैटट्रिक
एक बार फिर यॉर्कर और शमी को मनचाहा रिजल्ट। मुजीब बोल्ड। शमी की हैटट्रिक भारत ने यह मुकाबला 11 रन से जीता। मुजीब ने भी यहां शॉट खेलना चाहा था लेकिन बॉल बैट में कोई संपर्क नहीं। गेंद सीधे लेग स्टंप को चूम गई। शमी की वनडे क्रिकेट में यह पहली हैटट्रिक और वर्ल्ड कप में हैटट्रिक लेने वाले दूसरे भारतीय और दुनिया के 9वें गेंदबाज।

Related Articles

Back to top button