राजनीती

चिदंबरम या दिग्विजय, कौन बनेगा राज्यसभा में विपक्ष का नेता? खड़गे के इस्तीफे से खाली हुआ है पद

 नई दिल्ली।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ रहे वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने राज्यसभा में विपक्ष के नेता के पद से इस्तीफा दे दिया है। सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी। खड़गे के इस्तीफे से खाली हुए इस पद के लिए कई नेताओं के नाम सामने आ रहे हैं। आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने इसी साल मई में उदयपुर में आयोजित चिंतन शिविर में 'एक व्यक्ति, एक पद' के अपने नए सिद्धांत की घोषणा की थी।

मल्लिकार्जुन खड़गे के बाद राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम और दिग्विजय सिंह का नाम सबसे आगे चल रहा है। आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह ने भी कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लड़ने की ऐलान किया था। हालांकि, मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम सामने आने के बाद उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। सूत्रों का कहना है कि राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष पद के लिए प्रमोद तिवारी भी दौड़ में हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए शुक्रवार को मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर के बीच मुकाबले के लिए मंच तैयार हुआ। कर्नाटक के दलित नेता खड़गे की सबसे मजबूत दावेदारी दिख रही है। झारखंड के पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने भी इस पद के लिए नामांकन किया था, जो कि खारिज हो गया है।

आपतो बता दें कि कांग्रेस के शीर्ष नेताओं ने खड़गे का साथ दिया है। इन नेताओं में अशोक गहलोत, दिग्विजय सिंह, एके एंटनी, अंबिका सोनी, मुकुल वासनिक, आनंद शर्मा, भूपिंदर हुड्डा, पृथ्वीराज चव्हाण और मनीष तिवारी जैसा नाम शामिल हैं।

 

Related Articles

Back to top button