राज्य

सीएम नीतीश ने फिर दोहराई विशेष राज्य की मांग, कहा- केंद्र पिछड़े राज्यों को स्पेशल स्टेट का दर्जा दे

 बक्सर 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग दोहराई। नीतीश कुमार ने कहा कि केंद्र सभी पिछड़े राज्यों को दर्जा दे। पहले भी कई सारे पिछड़े राज्यों को दर्जा दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाता तो इसका काफी विकास हो जाता। अभी कई काम बिहार सरकार को खुद करना पड़ता है। अगर, विशेष राज्य को दर्जा मिलता तो बिहार इतना विकसित हो जाता, जिसकी कल्पना आप नहीं कर सकते हैं। कहा कि विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलने के बावजदू हम लोग बिहार का विकास कर रहे हैं। मुख्यमंत्री बुधवार को समाधान यात्रा पर बक्सर के कई क्षेत्रों में विकास कार्यों का जायजा लेने के दौरान पत्रकारों से बात कर रहे थे।

केंद्र पर बिहार की उपेक्षा का लगाया आरोप
मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी पिछड़े राज्य विकसित हो जायेंगे तो देश विकसित हो जायेगा। विकसित राज्य से आने वाले लोग दूसरे राज्य की बात को समझ ही नहीं रहे हैं। बिना नाम लिये उन्होंने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि वे जहां से आये हैं, वह राज्य शुरू से ही विकसित था। केंद्र की उपेक्षा के बाद भी राज्य सरकार बिहार को आगे बढ़ाने के काम में जुटी हुई है। जीविका के माध्यम से समूह बनाकर महिलाओं को सशक्त बनाने की दिशा में कार्य सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है, उसका सकारात्मक परिणाम भी समाज देख रहा है। शिक्षा के मामले में बिहार आगे बढ़ रहा है। शराबबंदी पर कहा कि शराब खराब चीज है। कुछ लोग नहीं समझ रहे हैं, जिन्हें समझाने की जिम्मेदारी समाज के लोगों की है। राजद द्वारा पूर्व मंत्री सुधाकर सिंह को नोटिस देने के सवाल पर सीएम बोले- सब बातें आपलोगों को मालूम ही हैं। 

आपको बता दें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने समाधान यात्रा के दौरान बुधवार को बक्सर के हेनवा की दलित बस्ती के लोगों से मिलकर विकास कार्यों का हाल जाना। वहीं सिमरी प्रखंड के कठार में जैविक खेती करने वाले किसानों की हौसला अफजाई की। मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि किसानों के जीवनस्तर में बदलाव के लिए सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोग अलग-अलग जिले में जाकर जो काम कराया जा रहा है उसको देख रहे हैं। आगे क्या किया जाना चाहिए, उसका आकलन कर रहे हैं। यहां काफी बढ़िया ढंग से काम कराया गया है। विकास का मतलब है पिछड़े इलाके को आगे बढ़ाना।
 

Related Articles

Back to top button