उत्तर प्रदेशराज्य

नकल माफिया पर सख्ती, यूपी बोर्ड परीक्षा में गड़बडी पर एनएसए और गैंगस्टर एक्ट लगेगा, कुर्क होगी सम्पत्ति

  यूपी

 यूपी बोर्ड परीक्षा में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ इस बार अधिक सख्त कार्रवाई होगी। नकल माफिया हो या परीक्षा के दौरान कानून व्यवस्था में बाधा उत्पन्न करने वाले तत्व। सरकार ऐसे तत्वों के खिलाफ एनएसए और गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करेगी। साथ ही कुर्की की कार्रवाई की जाएगी। मंगलवार को बोर्ड परीक्षा की तैयारियों को लेकर बेसिक एवं माध्यमिक शिक्षा के प्रमुख सचिव दीपक कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में एसटीएल के एडीजी अमिताभ यश से लेकर डीजी स्कूल शिक्षा विजय किरण आनन्द समेत तमाम उच्चाधिकारियों ने हिस्सा लिया। 

 बोर्ड परीक्षा को कुशलता पूर्वक सम्पन्न कराने की पूरी जिम्मेदारी जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला प्रशासन की होगी। बैठक में  प्रदेश के सभी डीएम को निर्देश जारी किए गए कि वे अपने जिले के परीक्षा केन्द्रों में लगे सीसीटीवी कैमरेों की जांच करा लें और बोर्ड के द्वारा जो प्रबन्धन की व्यवस्था की गई है उसकी पूरी निगरानी कर लें। इस दौरान एसटीएफ के एजीडी द्वारा बताया गया कि पूर्व अनुभव व वर्तमान इनपुट के आधार पर ऐसे लोगों की गतिविधियों पर लगातार कड़ी नजर रखी जा रही है ताकि किसी भी प्रकार की गड़बड़ी या संन्देहास्पद गतिवित के खिलाफ त्वरित कड़ी कार्रवाई की जा सके। बैठक में इस बात पर भी जोर दिया गया कि डीएम व एसपी एसटीएफ से समन्वय स्थापित कर ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित करें जो नकल कराने की गतिविधि में संलिप्त पाए जाते हैं या नकल माफिया से साठ-गांठ कर परीक्षा को प्रभावित कर सकते हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

 इसके अलावा स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए पर्याप्त पुलिस बलों की तैनाती से लेकर सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचना फैलाने वालों के खिलाफ कदम उठाए जाने, कन्ट्रोल रूम को प्राप्त होने वाली किसी प्रकार की प्रतिकूल सूचना की छानबीन कर तत्काल कार्यवाही करने की रूपरेखा को भी अन्तिम रूप दिया गया। यह भी कहा गया कि सीसीटीवी की निगरानी में ही प्रश्न पत्र के पैकेट खोले जांए और तय एसओपी के अनुसार ही कार्य की जाए।   

Related Articles

Back to top button