बिज़नेस

कर्ज के जंजाल में फंसी वेदांता, मूडीज की रिपोर्ट के बाद लगा तगड़ा झटका, शेयरों ने लगाया गोता

नई दिल्ली

वेदांता लिमिटेड के शेयरों में तेज गिरावट आई है। कंपनी के शेयर बुधवार को 5 पर्सेंट से ज्यादा की गिरावट के साथ 210 रुपये पर पहुंच गए हैं। वेदांता (Vedanta) के शेयरों का यह 52 हफ्ते का नया लो लेवल है। कंपनी के शेयरों में यह गिरावट रेटिंग घटने के बाद आई है। दरअसल, मूडीज इनवेस्टर सर्विस ने दिग्गज बिजनेसमैन अनिल अग्रवाल के मालिकाना हक वाली कंपनी वेदांता रिसोर्सेज लिमिटेड की कॉरपोरेट फैमिली रेटिंग (CFR) को घटा दिया है। कर्ज की रिस्ट्रक्चरिंग की बढ़ती चिंता को लेकर मूडीज ने रेटिंग डाउनग्रेड की है। वेदांता रिसोर्सेज, वेदांता लिमिटेड की पैरेंट कंपनी है।

कर्ज का लगातार बढ़ रहा दबाव
वेदांता पर कर्ज का दबाव लगातार बढ़ रहा है। मूडीज इनवेस्टर सर्विस ने वेदांता रिसोर्सेज की रेटिंग को Caa1 से घटाकर Caa2 कर दिया है। इसके अलावा, मूडीज ने वेदांता रिसोर्सेज, वेदांता रिसोर्सेज फाइनेंस 11 की तरफ से जारी किए गए सीनियर अनसिक्योर्ड बॉन्ड्स की रेटिंग को Caa2 से डाउनग्रेड करके Caa3 कर दी है। साथ ही, मूडीज ने निगेटिव आउटलुक बनाए रखा है। रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा है कि वेदांता रिसोर्सेज ने आने वाले डेट मैच्योरिटीज की रीफाइनेंसिंग में कोई खास प्रगति नहीं की है। जनवरी 2024 और अगस्त 2024 में 1-1 बिलियन डॉलर के बॉन्ड्स मैच्योर हो रहे हैं।
 
इस साल अब तक 33% लुढ़क गए हैं कंपनी के शेयर
वेदांता लिमिटेड के शेयरों में लगातार गिरावट आ रही है। इस साल अब तक वेदांता के शेयर 33 पर्सेंट लुढ़क गए हैं। वेदांता लिमिटेड के शेयर 2 जनवरी 2023 को 316.10 रुपये पर थे। कंपनी के शेयर 27 सितंबर 2023 को 210 रुपये पर पहुंच गए हैं। कंपनी के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई लेवल 340.75 रुपये है। पिछले 6 महीने में वेदांता के शेयरों में 23 पर्सेंट की गिरावट देखने को मिली है। 

Related Articles

Back to top button