उत्तर प्रदेशराज्य

उमेश पाल हत्याकांड में फरार आयशा नूरी और अशरफ की पत्नी जैनब फातिमा भी अब इनामी हो गई

प्रयागराज
भले ही माफिया अतीक अहमद और अशरफ अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी गई है, लेकिन अतीक के परिवार से क्राइम का नाता खत्म होता नजर नहीं आ रहा है. जब अतीक और अशरफ वांटेड थे तो पुलिस ने दोनों पर इनाम घोषित किया था. बीते साल प्रयागराज में हुए उमेश पाल मर्डर केस में अतीक के दो बेटे अली और उमर पर भी पुलिस ने इनाम रखा था. फिलहाल, अली अभी नैनी सेंट्रल जेल और उमर लखनऊ जेल में बंद है.

इसके अलावा उमेश पाल मर्डर मामले में अतीक अहमद के एक और बेटे असद पर पांच लाख रुपये का इनाम घोषित हुआ था. लेकिन पुलिस ने असद को एनकाउंटर में मार गिराया था. वहीं, अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन पर इनाम की राशि 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दी गई है. क्योंकि, शाइस्ता उमेश पाल मर्डर के बाद से फरार चल रही है और वह पुलिस की वांटेड लिस्ट में शामिल है.

अब इसी परिवार में शामिल अतीक के छोटे भाई की पत्नी जैनब उर्फ रूबी और अतीक की बहन आयशा नूरी पर 25-25 हजार का इनाम घोषित कर दिया है. दोनों ही पुलिस की वांटेड लिस्ट में शामिल हैं.

अतीक परिवार की तीन महिलाएं वांटेड

गौरतलब है कि उमेश पाल हत्याकांड के बाद से फरार अतीक अहमद की बहन आयशा नूरी और अशरफ की पत्नी जैनब फातिमा भी अब इनामी हो गई हैं. प्रयागराज पुलिस ने उन पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है. वहीं, अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन पर पहले से ही 50 हजार रुपये का इनाम है. इस तरह अतीक परिवार की तीनों महिलाएं अब इनामी हो गई हैं.

अतीक अहमद एंड कंपनी पर ताबड़तोड़ एक्शन

गौरतलब है कि राजू पाल हत्याकांड के बाद से अतीक अहमद के राजनीतिक कैरियर का ग्राफ घटना शुरू हो गया था. वहीं, उमेश पाल की हत्या में नाम आने के बाद तो उसका साम्राज्य ही ढह गया. एक के बाद एक कार्रवाई में पहले अतीक अहमद के बेटे असद को एनकाउंटर में मार दिया गया. उसके बाद अतीक और अशरफ की गोली मारकर हत्या कर दी गई. हालांकि, इस मामले में अभी जांच चल रही है.

उमेश पाल की हत्या की साजिश रचने का आरोप अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन पर भी लगा. जिसके बाद पुलिस ने शाइस्ता की तलाश शुरू की. लेकिन वो फरार हो गई. जिसपर पुलिस ने शाइस्ता पर इनाम घोषित कर दिया. लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला. यहां तक कि वो पति और बेटे की मौत पर भी नजर नहीं आई.  

इतना ही नहीं उमेश पाल की हत्या में साजिश रचने का आरोप आयशा नूरी (अतीक अहमद की बहन) और अशरफ की पत्नी जैनब फातिमा पर लगा है. आयशा नूरी के घर का जो सीसीटीवी फुटेज बरामद हुआ था उसमें गुड्डू मुस्लिम भी नजर आ रहा है. गुड्डू मुस्लिम ने ही उमेश पाल के घर पर बमबाजी की थी.

पुलिस कर रही है इन तीनों महिलाओं की तलाश

अतीक अहमद परिवार की यह तीनों महिलाएं (शाइस्ता, आयशा नूरी, जैनब फातिमा) फिलहाल पुलिस की लिस्ट में वांटेड हैं. प्रयागराज कमिश्नरेट के डीसीपी के मुताबिक उमेश पाल मर्डर केस के बाद से आयशा नूरी और जैनब फरार हैं. इन दोनों पर पुलिस ने 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है. इसके अलावा शाइस्ता पर पहले से इनाम घोषित है. इन तीनों महिलाओं को पुलिस तलाश कर रही है.

बता दें आयशा नूरी की शादी मेरठ में हुई है. वहीं, अशरफ की पत्नी जैनब प्रयागराज के हटवा गांव में रहती थी. ऐसे में मेरठ से लेकर प्रयागराज के हर कोने में तीनों की तलाश की जा रही है. इस बीच उनके कई करीबी लोगों को पकड़ा गया है.  

उमेश पाल हत्याकांड से रडार पर

मालूम हो कि 24 फरवरी 2023 को प्रयागराज में दिन दहाड़े उमेश पाल और उनके दो सरकारी गनर की गोलियां और बम मार कर हत्या कर दी गई थी. हत्या के आरोपियों की तलाश में पुलिस ने जैनब और आयशा से भी पूछताछ की थी लेकिन बाद में पुलिस ने दोनों को छोड़ दिया था. इसके बाद दोनों ने मीडिया के सामने आकर अतीक-अशरफ का बचाव किया था और उल्टा पुलिस कार्रवाई पर ही सवाल उठाए थे.

हालांकि, पुलिस ने जब जांच आगे बढ़ाई तो साफ हुआ कि जैनब और आयशा नूरी को हत्याकांड की जानकारी पहले से ही थी. नूरी के मेरठ वाले घर मे हत्याकांड के बाद बमबाज़ गुड्डू मुस्लिम और और अतीक का बेटा असद गया था. दोनों अतीक के बहनोई अखलाक से पैसे लेकर निकल गए थे. पुलिस अखलाक को पहले ही जेल भेज चुकी है. बाद में पुलिस ने FIR में इन दोनों महिलाओं का नाम भी शामिल करके इस हत्याकांड का आरोपी बनाया, लेकिन तब से दोनों महिलाएं फरार हैं.

 

Related Articles

Back to top button