उत्तर प्रदेशराज्य

जेल सुपरिटेंडेंट वीरेश राज शर्मा की सुरक्षा बढ़ा दी, मिली थी जान से मारने की धमकी, जिम्‍मेदारी एसटीएफ को सौंपी गई

बांदा
बांदा जेल के सीनियर सुपरिटेंडेंट (वरिष्‍ठ जेल अधीक्षक) के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सीनियर जेल सुपरिटेंडेंट वीरेश राज शर्मा को मुख्‍तार अंसारी की मौत के बाद एक अज्ञात फोन नंबर से जान से मारने की धमकी मिली थी। पुलिस धमकी देने वालों की तलाश में जुटी है। इस बीच प्रशासन ने जेल सुपरिटेंडेंट वीरेश राज शर्मा की सुरक्षा बढ़ा दी है। धमकी वाले की कॉल का पता लगाने की जिम्‍मेदारी एसटीएफ को सौंपी गई है।

जेल सुपरिटेंडेंट को ये धमकी माफिया मुख्‍तार अंसारी की मौत के पांच घंटे बाद मिली। मिली जानकारी के अनुसार कॉल देहरादून के एसटीडी कोड वाले लैंडलाइन नंबर से की गई। फोन करने वाले सीनियर जेल सुपरिटेंडेंट से बात होते ही  उन्‍हें गाली देते हुए कहा कि ‘अब तुझे ठोकना है, बच सके तो बच..।’ यह करीब 14 सेकेंड की कॉल थी। कॉल के बारे में पता चलते ही पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया। जेल सुपरिटेंडेंट ने धमकी देने वाले अज्ञात शख्‍स के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। प्रशासन ने धमकी के मद्देनज़र जेल सुपरिटेंडेंट वीरेश शर्मा की सुरक्षा बढ़ा दी।

हार्ट अटैक से हुई थी मुख्‍तार की मौत
मुख्‍तार अंसारी की मौत हार्ट अटैक से 28 मार्च की शाम 8.25 बजे हुई थी। जेल में हार्ट अटैक के बाद उन्‍हें रानी दुर्गावती मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।

इस नंबर से आई कॉल
जेल सुपरिटेंडेंट वीरेश शर्मा ने पुलिस को बताया कि जिस रात मुख्‍तार अंसारी की मौत हुई उसी रात 1: 37 बजे उनके सीयूजी नंबर पर 0135-2613492 नंबर से कॉल आई। बात होते ही कॉल करने वाले ने गाली देते हुए हत्‍या की धमकी दी। उन्होंने धमकी का ऑडियो देते हुए कोतवाली में धारा 504 और 507 के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई है।

 

Related Articles

Back to top button